पणजी। गोवा विधानसभा के स्पीकर प्रमोद सावंत अब राज्‍य के नए मुख्‍यमंत्री होंगे। सोमवार देर रात 2 बजे उन्‍होंने गोवा राजभवन में मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली। राज्‍यपाल मृदुला सिन्‍हा ने उन्‍हें शपथ ग्रहण करवाई।

नवनियुक्त सीएम प्रमोद सावंत ने कहा कि मुझे सभी सहयोगियों के साथ एक स्थिरता और आगे बढ़ना है। अधूरे कामों को पूरा करना मेरी जिम्मेदारी होगी। मैं मनोहर पर्रीकर जी के जितना काम नहीं कर पाऊंगा लेकिन जितना संभव हो सके काम करने की कोशिश करूंगा।

एमजीपी के मनोहर अजगांवकर, बीजेपी के मौविन गोडिन्हो, विश्वजीत राणे, मिलिंद नाइक और निलेश कैबरल, गोवा फॉरवर्ड पार्टी के विनोद पल्येकर और जयेश सालगांवकर और निर्दलीय विधायक रोहन खैतान और गोविंद गावडे ने भी राजभवन में राज्य कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली।

महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के सुदीन धवलिकर और गोवा फॉरवर्ड पार्टी के विजई सरदेसाई सहित 11 नेताओं ने भी राजभवन में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली।

इससे पहले प्रमोद सावंत ने कहा है कि पार्टी ने मुझे बहुत बड़ी ज़िम्मेदारी दी है, मैं इसे हर संभव तरीके से निभाने की पूरी कोशिश करुंगा। आज मैं जो कुछ भी हूं सब मनोहर पर्रीकर की वजह से हूं। वे ही मुझे राजनीति में लाए थे, मैं आज स्पीकर और सीएम बन गया हूं।

गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के विजय सरदेसाई और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के सुदीन धवलीकर को डिप्टी सीएम बनाया गया।

भाजपा ने स्पीकर प्रमोद सावंत को सीएम बनाने का फैसला किया था और इस पर सहयोगी दलों के साथ रजामंदी हो गई थी। बदले में दोनों प्रमुख सहयोगी दलों जीएफपी के सरदेसाई और एमजीपी के धवलीकर को उपमुख्यमंत्री बनाया गया।

नए सीएम के चयन को लेकर रविवार रात से बैठकों का दौर जारी था। जीएफपी और एमजीपी के तीन-तीन और तीन निर्दलीय विधायक भाजपा का समर्थन कर रहे थे।

राज्यपाल से मिले कांग्रेस के 14 विधायक

इससे पहले राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता चंद्रकांत कवलेकर ने पार्टी के सभी 14 विधायकों के साथ राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। इससे पहले शुक्रवार और रविवार को भी कांग्रेस ने भाजपा सरकार के अल्पमत में आने का दावा करते हुए कांग्रेस का दावा पेश किया था। कांग्रेस सबसे बड़े दल के नाते सरकार बनाने का दावा कर रही है।

गोवा विस की दलीय स्थिति

कुल सीटें : 40

रिक्त सीटें : 04

बहुमत : 19

भाजपा+ : 21 (भाजपा 12, जीएफपी 3, एमजीपी 3, निर्दलीय 3)

कांग्रेस : 14

राकांपा : 01

आयुर्वेद के डॉक्टर भी हैं प्रमोद सावंत

डॉ. प्रमोद सावंत (45) का जन्म 24 अप्रैल, 1973 को हुआ। सैंकलिम विधानसभा क्षेत्र से चुनकर आए डॉ. प्रमोद सावंत का पूरा नाम डॉ. प्रमोद पांडुरंग सावंत है। उनकी मां पद्मिनी सावंत और पिता पांडुरंग सावंत हैं।

प्रमोद सावंत ने आयुर्वेदिक चिकित्सा में महाराष्ट्र के कोल्हापुर की गंगा एजुकेशन सोसायटी से ग्रेजुएशन किया था। इसके बाद उन्होंने सोशल वर्क में पोस्ट ग्रेजुएशन पुणे की तिलक महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी से किया।

प्रमोद सावंत किसान और आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति के प्रेक्टिशनर हैं। प्रमोद सावंत की पत्नी सुलक्षणा केमिस्ट्री की शिक्षिका हैं।

वह बीकोलिम के श्री शांतादुर्गा हायर सेकेंडरी स्कूल में अध्यापन करती हैं। इसके साथ ही सुलक्षणा सावंत भाजपा नेत्री हैं। वह भाजपा महिला मोर्चा की गोवा इकाई की अध्यक्ष हैं।

2017 के विधानसभा चुनाव में डॉ. प्रमोद सावंत ने 10,058 वोट हासिल करके कांग्रेस के धर्मेश प्रभुदास सगलानी को मात दी थी।

उन्होंने सगलानी से 32 फीसद अधिक वोट हासिल किए थे। 2012 के चुनाव में प्रमोद सावंत ने कांग्रेस के प्रताप गौंस को हराया था। तब सावंत को 14,255 वोट मिले थे।

- भाजपा जहां सीएम के चयन में जुटी थी, वहीं कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया था।

प्रमोद सावंत के गोवा के नए सीएम बनने की चर्चा चल रही थी। भाजपा के गोवा प्रभारी नितिन गडकरी पणजी में थेऔर लगातार बैठकें कर रहे थे।

- मनोहर पर्रिकर गोवा में एक गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे थे, जिसमें भाजपा के साथ गोवा फॉरवर्ड पार्टी, एमजीपी और निर्दलीय शामिल रहे।

- चर्चा थी कि कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम दिगंबर कामत को भाजपा सीएम बना सकती है, हालांकि कामत ने इन खबरों का खंडन किया है। बकौल कामत, गोवा का सीएम बनने के लिए उन्हें भाजपा से अब तक कोई ऑफर नहीं मिला है।

- यूं तो गोवा विधानसभा में कुल 40 सीटें हैं, लेकिन पर्रिकर के निधन के बाद अब यह आंकड़ा घटकर 36 रह गया है। इससे पहले एक विधायक (डिसूजा) का निधन हो गया था और दो अन्य (सुभाष शिरोडकर और दयानंद सोप्ते) ने इस्तीफा दे दिया है।

- अभी कांग्रेस के पास 14 विधायक हैं। चुनाव में उसने 16 सीट जीती थी, लेकिन सुभाष शिरोडकर और दयानंद सोप्ते इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गए हैं। भाजपा के पास 13 विधायक हैं।

- लोकसभा चुनाव के साथ ही गोवा की तीन विधानसभा सीटों शिरोदा, मंडरेम और मपूसा के लिए भी 23 अप्रैल को मतदान होना है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Makar Sankranti
Makar Sankranti