Infosys job opportunity नई दिल्ली । भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी सर्विस कंपनी इंफोसिस की ग्रोथ दो अंकों में पहुंच गई है और कंपनी का मानना है कि साल 2022 में डिजिटल मांग बढ़ सकती है। ऐसे में कंपनी ने अगले वित्त वर्ष के लिए 24 हजार से ज्यादा फ्रेश हायरिंग करेगी। इंफोसिस के सीईओ सलिल पारिख का कहना है कि हमें कुछ बड़ी डील मिलने में सफलता मिली है और इस संबंध में बाजार से कुछ अन्य सकारात्मक रुझान भी प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगले साल बाजार में हर चीज में डबल डिजिट में ग्रोथ का रुझान दिख रहा है। यही कारण है कि कंपनी ने साल 2022 में 15 हजार भर्तियों को बढ़कर अब 24 हजार कर दिया है। इंफोसिस के सीओओ प्रवीण राव ने कहा कि बीती तिमाही में हमने जबरदस्त बढ़ोतरी देखी है। इस सभी बातों को देखते हुए हमने 24000 नई भर्ती करने का विचार किया है।

गौरतलब है कि दिसंबर 2020 में समाप्त हुई तिमारी में इंफोसिस की large deal करीब 7.13 बिलियन डॉलर की रही। इस डील में Vanguard, Daimler and Rolls Royce जैसी कंपनियां शामिल है। साथ ही इस तिमाही में कंपनी का राजस्व भी 8.4 फीसदी बढ़कर 3.5 बिलियन डॉलर हो गया है।

इंफोसिस का तीसरी तिमाही में शुद्ध लाभ 16.6 प्रतिशत बढ़ा

इंफोसिस का शुद्ध लाभ दिसंबर 2020 को समाप्त तिमाही में 16.6 प्रतिशत बढ़कर 5,197 करोड़ रुपए तक हो गया है। साल भर पहले की समान अवधि में उसे 4,457 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी का राजस्व 12.3 प्रतिशत बढ़कर सालभर पहले के 23,092 करोड़ रुपए की तुलना में 25,927 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एवं प्रबंध निदेशक (एमडी) सलिल पारेख ने बताया कि इंफोसिस टीम ने एक और तिमाही बेहतरीन प्रदर्शन किया है। उपभोक्ताओं के लिए डिजिटल रूपांतरण पर ध्यान देने से बेहतर वृद्धि हुई है.। उसके बड़े सौदों का कुल मूल्य 7.13 अरब डॉलर के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच चुका है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Makar Sankranti
Makar Sankranti