Gujarat 1st Phase Voting: गुजरात में आज प्रथम चरण के मतदान में 788 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में कैद हो गया। उत्तर और मध्य गुजरात में पांच दिसंबर के दूसरे चरण के मतदान के बाद आठ दिसंबर को चुनाव परिणाम घोषित होंगे। राज्य की मुख्य चुनाव अधिकारी पी. भारती ने बताया कि 19 जिलों की 89 सीटों के लिए प्रथम चरण का मतदान शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में शाम पांच बजे तक लगभग 59.24 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले। मतदान के अंतिम आंकड़े और बढ़ सकते हैं। निर्वाचन आयोग ने कहा है कि मतदान का अंतिम आंकड़ा आना अभी शेष है। कुछ मतदान केंद्रों के आंकड़े अभी प्राप्त नहीं हुए हैं। इसमें डाक मतपत्र शामिल नहीं हैं। मतदान के दौरान जामनगर के ध्राफा, नर्मदा के सामोट, भरुच के केसर गांव के मतदाताओं ने चुनाव का संपूर्ण बहिष्कार किया।

ईवीएम खराब होने की 33 शिकायतें मिलीं, जबकि आचार संहिता उल्लंघन के 104 मामले सामने आए। भारती ने बताया कि 19 जिले की 89 सीटों के 25,430 मतदान केंद्रों पर 26269 बैलेट यूनिट, 25430 कंट्रोल यूनिट व इतने ही वीवीपैट उपयोग में लाए गये। मतदान के दौरान 89 बैलेट यूनिट, 82 कंट्रोल यूनिट तथा 238 वीवीपैट को तकनीकी खराबी के चलते बदलना पड़ा। आयोग को ईवीएम संबंधी 33 शिकायतें मिलीं, जबकि हिसा की दो व आदर्श आचार संहिता उल्लंघन की दो शिकायतें मिलीं।

कहां कितने प्रतिशत मतदान

तापी जिले में सबसे अधिक 72.32 प्रतिशत मत पड़े। आदिवासी बहुल वाले इस जिले में व्यारा और निजार दो विधानसभा क्षेत्र आते हैं। लगभग 68.09 प्रतिशत मतदान के साथ नर्मदा जिला दूसरे स्थान पर रहा। सौराष्ट्र के भावनगर में शाम पांच बजे तक सबसे कम 51.34 प्रतिशत मतदान हुआ। नर्मदा के अतिरिक्त चार अन्य जिलों में 60 प्रतिशत से अधिक मतदान दर्ज किया गया। इनमें नवसारी 65.91 प्रतिशत, डांग 64.84 प्रतिशत, वलसाड 62.46 प्रतिशत और गिर सोमनाथ 60.46 प्रतिशत शामिल हैं।

इन दिग्‍गजों का भाग्‍य ईवीएम में कैद

विधानसभा चुनाव के पहले चरण में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के मंत्रिमंडल के सदस्य पूर्णेश मोदी, हर्ष संघवी, राघवजी पटेल, जीतू वाघाणी, जीतू चौधरी, कनु देसाई, किरीट सिह राणा, नरेश पटेल, अरविद रैयाणी, पूर्व मंत्री जयेश रादडिया, जवाहर चावड़ा और कुंवरजी बावलिया का भाग्य ईवीएम में कैद हो गया। कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अमित चावड़ा, पूर्व नेता विपक्ष परेश धनाणी, कार्यकारी अध्यक्ष ललित कगथरा, ऋत्विक मकवाणा, अमरीश डेर, विधायक जाविद पीरजादा व पूर्व विधायक इन्द्रनील राजगुरु का भाग्य भी ईवीएम में कैद हो गया। आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के चेहरे ईसुदान गढवी, प्रदेश अध्यक्ष गोपाल ईटालिया, पाटीदार नेता अल्पेश कथीरिया, धार्मिक मालविया आदि का भाग्य भी ईवीएम में कैद हो गया।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close