जम्मू। त्रिकुट पर्वत पर विराजित माता वैष्णोदेवी का भवन बर्फ की सफेद चादर में लिपट गया है। पहाड़ों पर भारी बर्फबारी की वजह से यह स्थिति बनी है। मौसम विभाग द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार त्रिकुट पर्वत पर 3 फीट, भैरों घाटी में दो से ढाई फीट, माता वैष्णो देवी के भवन पर 2 फीट, और सांझी छत्त पर एक से डेढ़ फीट तक बर्फबारी हुई है। बर्फबारी लगातार हो रही है। इसकी वजह से हेलीकॉप्टर सेवा, बैटरी कार सेवा और पैसेंजर केबल कार सेवा को बंद कर दिया गया है, लेकिन भारी बर्फबारी के बावजूद फिलहाल माँ वैष्णो देवी के सभी मार्ग खुले हुए है।

गौरतलब है जम्मू में स्थित माता वैष्णोदेवी के दरबार में शीश नवाने हर साल करोड़ों भक्त पहुंचते हैं। नवरात्रि के अवसर पर यहां पर बड़ी संख्या में भक्त आते हैं। बर्फबारी के बावजूद श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी है।

दोपहर साढ़े तीन बजे तक करीब 7500 श्रद्धालु अपना पंजीकरण करवा चुके थे। माता का जयकारा लगाते हुए श्रद्धालु निरंतर मां के दर्शनों के लिए दरबार की तरफ बढ़ रहे हैं। श्रद्धालुओं की सुरक्षा व्यवस्था को सख्त बनाने के लिए बोर्ड ने आपदा प्रबंधन व बोर्ड के कर्मचारियों को यात्रा मार्ग पर तैनात कर दिया है। पिछले दिनों बारिश की वजह से बैटरी कार मार्ग पर भूस्खलन होने से तीन श्रद्धालु घायल हो गए थे। इस मार्ग को करीब छह दिन बाद गत सोमवार को ही श्रद्धालुओं के लिए खोला गया है। हालांकि बोर्ड कर्मचारी इस मार्ग पर भवन की ओर जाने और आने वाले श्रद्धालुओं को कहीं भी रूकने नहीं दे रहे हैं। श्रद्धालुओं को विश्राम करने के लिए शेड के नीचे खड़े होने के लिए ही कहा जा रहा है।

श्राइन बोर्ड ने कहा कि बारिश अभी नीचले मार्ग पर ही हो रही है और अर्द्धकुंवारी से ऊपर बर्फबारी हो रही है। यात्रा मार्ग पर श्रद्धालुओं के लिए बेहतर व्यवस्था की गई है। विश्राम स्थल पर अलाव की व्यवस्था की गई है जबकि बर्फ की वजह से मार्ग पर फिसलन न हो इसको लेकर कर्मचारियों को बर्फ हटाने के लिए भी तैनात किया गया है। भैरव घाटी का पैदल मार्ग श्रद्धालुओं के लिए खुला हुआ है।

Posted By: Yogendra Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020