सोलन। सोलन जिले के कुमारहट्टी में NH पर बहुमंजिला इमारत ढह गई। इससे सम राइफल्स के दो जवानों और एक स्थानीय महिला की मौत हो गई।

18 जवानों और 5 स्थानीय लोगों को रेस्क्यू कर लिया गया है। 14 लोग अब भी मलबे में फंसे हैं। मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए राहत एवं बचाव कार्य देर रात तक जारी हैं।

रविवार दोपहर 3 बजे बाद कुमारहट्टी बाजार से एक किलोमीटर आगे नाहन रोड पर स्थित सहज तंदूरी ढाबा और चार मंजिला इमारत गिर गई।

हादसे के समय ढाबे में करीब 30 जवान भोजन करने वहां पहुंचे थे। इसके अलावा कुछ स्थानीय लोग भी मौजूद थे। भवन गिरते ही आसपास के इलाकों में हड़कंप मच गया।

सूचना मिलते ही धर्मपुर से पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। भवन में दबे सेना के जवान डगशाई छावनी के थे। कसौली, डगशाई और सुबाथू छावनी से भी सेना के जवान और अधिकारी मौके पर पहुंचे। स्थानीय लोग, पुलिस, सेना, CRPF और NDRF की टीम बचाव के कार्य में जुटे हुए हैं।

बारिश से राहत कार्य प्रभावित

भारी बारिश के चलते बचाव कार्य भी प्रभावित हुआ और हादसे के एक घंटे बाद घायलों को बाहर निकालने में सफलता मिली। जवानों को घायल अवस्था में बाहर निकाला गया और नजदीकी अस्पतालों में भेजा गया। समाचार लिखे जाने तक एक महिला और एक जवान के मरने की पुष्टि हो चुकी है। सोलन के उपायुक्त केसी चमन जिले के आलाधिकारियों समेत मौके पर डटे हुए हैं।

फंसे लोगों ने किया संपर्क :

चार मंजिला इमारत के मलबे में फंसे कुछ लोगों ने बचाव कार्य में लगे लोगों से मोबाइल फोन पर संपर्क कर उन्हें निकालने की अपील की है। NDRF की टीम उन्हें बचाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है और उनसे संपर्क बनाए हुए है।

हिमाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर ने ट्वीट कर हादसे पर दुख जताया है। उन्‍होंने लिखा है राहत कार्य में एनडीआरएफ की टीम सहित स्‍थानीय प्रशासन राहत कार्य में जुटा हुआ है। लोगों को सुरक्षित बचाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश के सोलन में एक इमारत ढह गई है, जिसमें कुछ सैन्यकर्मी भी फंस गए हैं। मैंने राहत कार्यों के लिए राज्य के मुख्यमंत्री जय राम जी से बात की। वह व्यक्तिगत रूप से घटना की निगरानी कर रहे हैं।

Posted By: Navodit Saktawat