Himachal Pradesh New Government। हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद कांग्रेस पार्टी आज मुख्यमंत्री पर फैसला कर सकती है। मिली जानकारी के मुताबिक शिमला में सभी नवनिर्वाचित कांग्रेस विधायकों को इकट्ठा होने के लिए कहा गया है। शिमला में कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज 3 बजे प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में होगी। इस बैठक में हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी राजीव शुक्ला, पर्यवेक्षक भूपेश बघेल और भूपेंद्र हुड्डा भी मौजूद रहेंगे। इस बीच हिमाचल प्रदेश कांग्रेस की प्रमुख प्रतिभा सिंह ने इशारों में ही खुद को मुख्यमंत्री पद का प्रमुख दावेदार बता दिया है।

प्रतिभा सिंह बोली, सोनिया गांधी ने मुझे सौंपी थी जिम्मेदारी

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए प्रतिभा सिंह ने कहा कि यह बड़ी जिम्मेदारी सोनिया गांधी ने दी थी और उन्होंने मुझसे कहा था कि वह मुझे राज्य प्रमुख के रूप में चुन रही हैं और मुझे सभी 68 निर्वाचन क्षेत्रों में जाना होगा और राज्य को जिताना होगा। मैंने वह ईमानदारी से किया और परिणाम हमारे सामने है। हिमाचल में कांग्रेस की जीत के लिए प्रतिभा सिंह लगातार अपनी कड़ी मेहनत के बारे में जिक्र कर रही है। गुरुवार को भी चुनाव परिणाम आने के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने कुछ इसी तरह के बयान दिए थे, जिससे संभावना जताई जा रही है कि प्रतिभा सिंह हिमाचल प्रदेश में सीएम पद के लिए प्रमुख दावेदार हैं।

वहीं दूसरी ओर CM चेहरे पर कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने शिमला में कहा कि कई नामों पर चर्चा हो रही है। हमें इसे नवनिर्वाचित विधायकों के निर्णय पर छोड़ देना चाहिए। यह उनका विशेषाधिकार है। लोगों ने अपना फैसला लिया। अब यह विधायकों को तय करना है कि वे अपने नेता के रूप में किसे चाहते हैं।

गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ 12 दिसंबर को

इधर गुजरात भाजपा के अध्यक्ष पाटिल ने कहा है कि भूपेंद्र पटेल राज्य के मुख्यमंत्री बने रहेंगे। 12 दिसंबर को भूपेंद्र पटेल शपथ लेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे।

सीएम पद के लिए प्रतिभा सिंह प्रमुख दावेदार

हिमाचल में मुख्यमंत्री पद की रेस में फिलहाल प्रतिभा सिंह को सबसे आगे माना जा रहा है। वहीं पूर्व प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खू और मुकेश अग्निहोत्री को भी मुख्यमंत्री पद के लिए प्रमुख दावेदारों के रूप में देखा जा रहा है। गौरतलब है कि हिमाचल कांग्रेस के प्रभारी राजीव शुक्ला ने गुरुवार को संकेत दे दिया था कि शुक्रवार को ही पार्टी विधायक दल की बैठक में तय कर सकती है कि हिमाचल प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा।

हिमाचल में 5 साल बाद फिर कांग्रेस की वापसी

विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद हिमाचल में 5 साल बाद एक बार फिर कांग्रेस की सत्ता में वापसी हुई है। 68 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस ने सत्ता विरोधी लहर पर सवार होकर 40 सीटें जीतीं हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी 25 सीटों पर सिमट गई है। 3 निर्दलीयों ने जीत हासिल की है। वहीं आम आदमी पार्टी हिमाचल में खाता खोलने में नाकाम रही है।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close