पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना संक्रमण के कहर से जूझ रही है। भारत में भी सैंकड़ों कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। कोरोना के खतरे के बीच बिहार में Bird Flu की दस्तक दे दी है। Bird Flu अपने पैर न पसारे इसके लिए विभाग हरकत में आ गया है। इसी कड़ी में पशुपालन विभाग द्वारा हजारों मुर्गियों को चिन्हित कर उन्हें दफना दिया गया है। विभाग द्वारा पटना में बड़ा गड्ढा कर मुर्गियों को बोरी में बंद कर दफनाया गया। इसके साथ ही उसमें दवा का छिड़काव भी किया गया। बता दें कि पटना के साथ ही नालंदा, भागलपुर, मुंगेर, बांका सहित राज्य के कई जिलों में मुर्गी, बतख, कौए की मौत के मामले सामने आए थे।

2 जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि

बिहार के दो जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इसके बाद सरकार द्वारा संबंधित इलाकों के चारों ओर एक किलोमीटर के दायरे में सभी मुर्गी, बतखों को दफनाने के निर्देश दिए थे। पटना के अशोक नगर और नालंदा के कतरीसराय में मुर्गियों में बर्ड फ्लू होने की पुष्टि हुई थी। इसके बाद केंद्र ने फाइनल रिपोर्ट बिहार सरकार को भेज दी थी।

रिपोर्ट मिलने के बाद दोनों इलाकों के सभी मुर्गी फार्म के मुर्गे मुर्गियों समेत पक्षियों और बतखों की मिट्टी में दफनाने की प्रक्रिया की जा रही है। इसी कड़ी में पटना में बड़ा गड्ढ़ा कर मुर्गियों को दफनाया गया।

मुआवजा दे कराई जा रही किलिंग

बिहार सरकार के पास बर्ड फ्लू की फाइनल रिपोर्ट आने के बाद अब सरकार द्वारा संक्रमित इलाकों की मुर्गियों और बतखों की किलिंग करवाई जा रही है। इसके लिए सरकार 90 से 130 रुपए प्रति मुर्गी और बतख मुआवजा दे रही है।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना