जम्मू। अपने मिग-21 फाइटर प्लेन से पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराने वाले भारतीय वायुसेना के जांबाज विग कमांडर अभिनंदन वर्तमान घर पर छुट्टियां (सिक लीव) मनाने के बजाए अपने साथियों के बीच श्रीनगर पहुंच गए हैं। उनका स्क्वाड (दस्ता) इस सामय श्रीनगर में ऑपरेशन के लिए तैनात है। अभिनंदन न केवल वायुसेना बल्कि पूरे देश के हीरो हैं।

अभिनंदन ने भारत की सीमा में घुसने पर पाकिस्तानी वायुसेना को कभी न भूलने वाला सबक दिया था। ठीक एक महीने पहले 27 फरवरी को अभिनंदन ने डॉग फाइट में पाकिस्तान सेना को खदेड़ कर उसका हमला नाकाम करने में अहम भूमिका निभाई थी। इस दौरान उनका विमान दुर्घटनग्रस्त होने के बाद पाकिस्तान ने उन्हें पकड़ लिया था।

पाकिस्तान ने इस मौके का इस्तेमाल युद्ध से बचने के लिए अभिनंदन को लौटाकर किया था। पाकिस्तान के उन्हें छोड़ने के बाद आर्मी के रिसर्च और रेफरल हॉस्पिटल में कुछ दिन उनका उपचार हुआ और उन्हें परिवार संग समय बिताने के चार हफ्ते की छुट्टी मिल गई। सैन्य सूत्रों के अनुसार, यह छुट्टी चेन्नई में अपने माता-पिता और परिवार के साथ बिताने के बजाए अभिनंदन ने श्रीनगर में अपने साथियों के साथ रहना बेहतर समझा।

दिखा दी जांबाजी : एयर स्ट्राइक के ठीक एक दिन बाद पाकिस्तानी फाइटर विमानों ने जम्मू संभाग के राजौरी, पुंछ और रियासी जिलों में चार जगहों पर बम गिराकर सैन्य संस्थानों को निशाना बनाने की कोशिश की थी। अभिनंदन ने पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराया था। इस दौरान विग कमांडर का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

पैराशूट के जरिए नीचे उतरने पर उन्हें पाकिस्तान के अधिकारियों ने गिरफ्तार कर लिया था। इससे पहले उन्होंने सभी जरूर दस्तावेज नष्ट कर दिए थे। उन्होंने बड़ी बेबाकी से पाकिस्तानी सेना के जवाब देते हुए अधिक जानकारी देने से साफ इन्कार कर दिया था। गिरफ्तारी के ठीक एक दिन बाद 28 फरवरी को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शांति के प्रयासों के तहत उन्हें रिहा करने का एलान किया था। उन्हें एक मार्च को रिहा कर दिया गया था।

Posted By: