आधार कार्ड भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) द्वारा जारी किए गए सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों में से एक है। दस्तावेज़ लोगों के लिए एक पहचान प्रमाण के रूप में कार्य करता है और उन्हें हर कानूनी कार्य में मदद करता है। आधार कार्ड में व्यक्ति का नाम, जन्म तिथि, लिंग और पता होता है। इसे और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए दस्तावेज़ में व्यक्ति के फिंगरप्रिंट और आईरिस जैसे बायोमेट्रिक क्रेडेंशियल भी हैं। लोग एक सॉफ्ट कॉपी में भी आधार कार्ड का उपयोग कर सकते हैं जो अंततः दस्तावेज़ के गुम होने के जोखिम को कम करता है। दस्तावेज़ की सॉफ्ट कॉपी को 'ई-आधार' कहा जाता है। यहां जानिये इसके बारे में सब कुछ।

क्या है ई-आधार

ई-आधार को आधार कार्ड की इलेक्ट्रॉनिक कॉपी के रूप में दिया जाता है जो आधार कार्ड की भौतिक प्रति के समान ही मान्य है। हालाँकि, दस्तावेज़ की उस इलेक्ट्रॉनिक प्रति तक पहुँचने के लिए, एक व्यक्ति को इससे जुड़ा पासवर्ड दर्ज करना होगा - जो आपके नाम के पहले चार अक्षर (कैप्स में) और आपके जन्म का वर्ष है।

यदि आप अपना ई-आधार डाउनलोड करना चाहते हैं तो अपनाएं ये तरीके

स्‍टेप 1: आधिकारिक वेबसाइट - uidai.gov.in पर जाएं

स्‍टेप 2: वेबसाइट के होमपेज पर आपको 'आधार डाउनलोड करें' का विकल्प मिलेगा - उस पर क्लिक करें

स्‍टेप 3: अब आधार कार्ड डाउनलोड करने के लिए आपको 'आधार संख्या', 'नामांकन आईडी' और वर्चुअल आईडी के बीच चयन करना होगा - एक चुनें

स्‍टेप 4: आवश्यक विवरण भरें

स्‍टेप 5: - पहले कैप्चा कोड सत्यापित करें और फिर 'ओटीपी भेजें' के विकल्प पर क्लिक करें, इससे आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक कोड भेजा जाएगा।

स्‍टेप 6: - प्रक्रिया को सत्यापित करने के लिए ओटीपी दर्ज करें।

स्‍टेप 7: आपका ई-आधार आपके डिवाइस पर डाउनलोड हो जाएगा

Posted By: Navodit Saktawat