श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर से आतंक का पूरी तरह सफाया करने के लिए सुरक्षाबलों ने इस वक्त ऑपरेशन ऑल आउट चलाया हुआ है। निशाने पर आंतकी संगठनों के कमांडर हैं, जिन्हें एक-एक कर मारा जा रहा है।

वहीं स्थानीय आतंकियों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए भी राज्य पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजीपी मुनीर खान ने बताया, 'हम हमेशा कहते रहे हैं कि यदि स्थानीय आतंकी आत्मसमर्पण करते हैं तो हम इसके लिए तैयार हैं। हम चाहते हैं कि वो मुख्य धारा में वापस लौटें, क्योंकि ये हमारे अपने लोग है।'

मुनीर खान ने आगे बताया, 'पिछले 3 दिनों के भीतर 3 स्थानीय आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया है जिनके पास से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद हुए हैं।

हाल में ही बैंक चोरी की दो घटनाएं हुईं जिसे हिज्बुल के आतंकियों द्वारा अंजाम दिया गया। सीसीटीवी फुटेज से आतंकियों की पहचान हो चुकी है।'

ऐसे में सीमा पार से आ रहे आतंकियों को ठिकाने लगाने के साथ ही स्थानीय आतंकियों को मुख्यधारा में जोड़ने की भी कोशिश की जा रही है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020