कानपुर। IIT Kanpur Design : देश में ज्यादातर लोग सफर करने के लिए बस या कार के बजाय ट्रेन का इस्तेमाल करते हैं। रेलवे स्टेशन पहुंचने पर कई बार लगता है कि आधा देश यात्रा पर निकला पड़ा है। मगर, महिला और बुजुर्ग यात्रियों के लिए यह आरामदायक सफर भी उस वक्त मुसीबत भरा साबित होता है, जब उन्हें ट्रेन में ऊपर की बर्थ मिल जाती है। दरअसल, ऊपर चढ़ने के लिए ट्रेन में ऐसी व्यवस्था नहीं होती है, जिससे महिलाएं और बुजुर्ग आसानी से बर्थ में चढ़ या उतर सकें।

इस समस्या को देखते हुए आईआईटी-कानपुर की एक टीम ने रेल की बोगी में ऊपर की बर्थ पर चढ़ने के लिए फोल्ड होने वाली सीढ़ियों की डिजाइन बनाई हैं। जिन्हें बर्थ में ऊपर चढ़ने के लिए सुविधानुसार खोला जा सकेगा और बाद में बंद किया जा सकेगा। आईआईटी कानपुर से प्रोग्राम डिजाइनिंग में पीएचडी करने वाले कनिष्क बिस्वास ने बताया कि सीढ़ी में 3 फोल्डेबल स्टेप हैं, जिन्हें आसानी से लॉक और अनलॉक किया जा सकता है। इन्हें इस तरह से लगाया गया है, ताकि ये जगह कम लें और यात्रियों को चढ़ने में सहूलियत भी दें।

तीनों स्टैंड को पहली और दूसरी बर्थ के बीच में लगाया गया है। इन फोल्डिंग सीढ़ियों की डिजाइन को रेलवे के अधिकारियों के पास ट्रायल के लिए भेजा है। इसके साथ ही सीढ़ी का डिजाइन पेटेंट कराने के लिए आवेदन पहले ही किया जा चुका है।

सीढ़ी को तैयार करने वाली टीम में प्रोग्राम डिजाइनिंग में पीएचडी कर रहे कनिष्क के अलावा पुष्पल डे, अर्थ साइंस विभाग की पीएचडी स्कॉलर ईशा रे, मैक्निकल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर डॉक्टर बिशाख भट्टाचार्य और सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर डॉ तरुण गुप्ता शामिल थे।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020