बेंगलुरु। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने IMA ग्रुप के प्रमुख और पोंजी स्कीम के मुख्य आरोपी मंसूर खान को बेंगलुरु की PMLA कोर्ट से तीन दिन की रिमांड पर लिया है। बता दें कि मंसूर को शुक्रवार रात नई दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था। ED ने उसे शनिवार को यहां PMLA (प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट) कोर्ट में पेश किया।

कोर्ट ने उसे 23 जुलाई तक ED की हिरासत में भेज दिया। आइ मोनिटिरी एडवाइजरी (IMA) का संस्थापक एवं मालिक मंसूर दुबई से नई दिल्ली पहुंचा था। पोंजी घोटाले की जांच कर रही एसआइटी ने उसे भारत लौटने और कोर्ट के सामने उपस्थित होने के लिए कहा था।

पोंजी घोटाले की कई शिकायतों के बाद मंसूर गत माह देश से भाग गया था। बाद में उसने एक वीडियो जारी किया जिसमें उसने भारत लौटने तथा जांच में शामिल होने की इच्छा जताई। डीआइजी बीआर रविकांथ गौड़ा की अगुआई में विशेष जांच दल (एसआइटी)उसके ग्र्रुप से जुड़े पोंजी घोटाले की जांच कर रहा है।

SIT और ED दोनों ने उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था। एसआइटी ने भी उससे पूछताछ के लिए दस दिन का रिमांड मांगा है। एसआइटी के एक अधिकारी ने कहा कि ED की पूछताछ खत्म होने के बाद हम भी उसको रिमांड पर लेंगे।

आरोप है कि IMA ज्वेलर्स की स्थापना कर मंसूर ने हजारों लोगों को पैसा दोगुना करने का झांसा देकर अपनी कंपनी में निवेश कराया और बाद में पैसा लौटाने के समय उसने उनको धोखा दे दिया। उस पर राज्य के दस हजार से ज्यादा मुस्लिम निवेशकों को भी चूना लगाने का आरोप है।

Posted By: Arvind Dubey

Assembly elections 2021
elections 2022
  • Font Size
  • Close