पटना। गुरु पूर्णिमा पर फिल्म 'सुपर-30' के प्रमोशन के लिए पटना पहुंचे अभिनेता रितिक रोशन ने गणितज्ञ आनंद कुमार के पैर छुए और उन्हें शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। रितिक ने कहा, 'मैं पहली बार पटना आया हूं, लेकिन ऐसा एहसास बिल्कुल नहीं हो रहा। लोगों के हंसते चेहरे मुझमें और भी उत्साह भर रहे हैं। जिस शहर ने आनंद सर को पैदा किया, वह तो खास होगा ही। ऐसा लगता है, जैसे बिहार से मेरा पूर्व जन्म का रिश्ता है।'

मंगलवार दोपहर पटना पहुंचे रितिक रोशन को देखने के लिए एयरपोर्ट से लेकर होटल तक प्रशंसकों की भीड़ लगी रही। प्रशंसकों को रोकने के लिए कुछ देर के लिए होटल के गेट को बंद करना पड़ा। रितिक ने कहा कि बिहार की बोली उनके सीधे दिल में उतर जाती है।

रितिक से अच्छा कोई नहीं निभा सकता मेरा किरदार

सुपर-30 फेम गणितज्ञ आनंद कुमार ने कहा कि कई बड़े अभिनेताओं का नाम इस फिल्म के लिए प्रस्तावित किया गया था, लेकिन रितिक से अच्छा इस रोल को कोई नहीं निभा सकता है। उन्होंने मेरे जीवन के एक-एक पल को बखूबी निभाया है। जितने भी लोग फिल्म देखकर मुझसे मिल रहे हैं, सभी ने मुझे बस एक ही बात कही है कि मेरे और रितिक में कोई भी अंतर नहीं समझ में आ रहा है। आनंद के साथ किया डांस, लगाया गले रितिक रोशन ने मंच पर कहा कि अभी तक मैंने वो काम किया है, जो आनंद सर करते हैं। अब आनंद सर वो काम करें, जो मैं करता हूं। इसके बाद दोनों ने मंच पर 'इक पल का जीना' गाने का सिग्नेचर स्टेप डांस किया। इस मौके पर आनंद कुमार के भाई प्रणव भी थे।

Posted By: Yogendra Sharma