नई दिल्ली। महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने राज्यसभा में बताया कि उत्तर प्रदेश में वर्ष 2018-19 के दौरान बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना पर 80 करोड़ रुपये खर्च किए गए।

ईरानी ने बताया कि पश्चिम बंगाल को छोड़कर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के लिए राज्य टास्क फोर्स (एसटीएफ) का गठन किया है।

राज्यों में प्रमुख सचिव और केंद्र शासित प्रदेश में प्रशासक एसटीएफ के प्रमुख होते हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कार्यस्थल पर महिलाओं का यौन उत्पीड़न (रोकथाम, निषेध और निवारण) अधिनियम, 2013 में किसी तरह का संशोधन करने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

उन्होंने कहा कि कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न रोकने के लिए केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों और राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से अपने विभागों और दफ्तरों में जागरूकता अभियान चलाने को कहा गया है।