India China Border News: चीन एक तरफ सीमा पर तनाव कम करने के लिए वार्ता कर रही है, वहीं गुपचुप तरीके से सीमा पर नापाक हरकते भी करता जा रहा है। ताजा खबर यह है कि चीन की सेना ने सीमा पर पक्के निर्माण कर लिए हैं। सैनिकों के कहने के लिए यह मकान बनाए गए हैं। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने पूर्वी लद्दाख के करीब आठ स्थानों पर अपने सैनिकों के लिए मॉड्यूलर कंटेनर आधारित आवास का निर्माण किया है। चीन यहां ड्रोन से निगरानी रख रहा है। भारतीय सैनिक यहां से महज एक किमी दूर हैं। भारत ने भी यहां 50,000 सैनिक तैनात किए हैं।

चीन ने फिर की हरकत

पिछले दिनों जारी खबर के अनुसार, चीनी सेना (पीएलए) ने झिंजियांग क्षेत्र में 16,000 फीट से अधिक ऊंचाई पर रात्रि युद्ध अभ्यास किया था। जब से भारत ने पूर्वी लद्दाख में यथास्थिति को बदलने के चीन के एकतरफा प्रयासों पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है, पीएलए तेजी से एलएसी पर सैन्य बुनियादी ढांचे को बढ़ा रहा है।

भारत की भी पक्की तैयारी

भारत ने भी पूर्वी लद्दाख में चीनी आक्रामकता का कड़ा जवाब दिया है और एलएसी के पास लगभग 50,000 सैनिकों के साथ ही फ्रंटलाइन लड़ाकू विमानों, मिसाइल रोधी प्रणालियों और अन्य भारी सैन्य उपकरणों को तैनात किया है। पिछले हफ्ते, चीन ने भारत को गलवान घाटी संघर्ष के लिए जिम्मेदार ठहराया, जिसके परिणामस्वरूप 20 भारतीय सेना के सैनिक मारे गए थे।

बीजिंग के आरोप पर प्रतिक्रिया देते हुए भारत ने चीन के दावों को खारिज किया और कहा कि पड़ोसी देश के आक्रामक व्यवहार और पूर्वी लद्दाख में यथास्थिति को बदलने की एकतरफा कोशिशों ने दोनों देशों के बीच शांति भंग कर दी है।

Posted By: Arvind Dubey