India China News : पूर्वी लद्दाख में सैन्य तनातनी की खीज में अरुणाचल प्रदेश के पांच भारतीय युवाओं को बंधक रखने के बाद चीन ने इन युवाओं को भारत को सौंप दिया है। कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर हुई बातचीत में भारत के भारी दबाव के बाद चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने इन युवाओं को शनिवार को सीमा पर भारतीय सैनिकों के हवाले कर दिया। सेना ने पांचों युवकों को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत 14 दिन क्वारंटाइन में रखने का फैसला किया है। इसके बाद इन्हें इनके परिवारों को सौंप दिया जाएगा।

चीनी सेना ने पहले तो इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी लेकिन भारतीय सेना के लगातार दबाव और हॉटलाइन पर हुई बातचीत में 8 सितंबर को स्वीकार किया कि पांचों युवक उसके कब्जे में हैं। चीन की इस स्वीकारोक्ति के बाद भारत ने तत्काल इन युवकों को सौंपे जाने का दबाव बनाया। यद्यपि चीनी मीडिया ने इन युवकों को भारतीय जासूस बताया मगर चीनी सेना भी इस हकीकत से वाकिफ थी कि शिकार के दौरान अरुणाचल के पांचों युवक गलती से एलएसी पार कर गए। जाहिर तौर पर इन युवाओं की रिहाई में भारतीय सेना ने अपने रणनीतिक कौशल और क्षमता का दमदार प्रदर्शन किया। तेजपुर स्थित सेना के प्रवक्ता की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पांचों युवक सकुशल हैं।

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने पांचों युवकों की चीनी कब्जे से सुरक्षित वापसी पर ट्वीट कर खुशी जाहिर की और इसके लिए भारतीय सेना और केंद्र सरकार के प्रयासों की सराहना की है। सेना ने बताया कि ऊपरी सुबंसरी जिले के इन पांचों युवकों को चीनी सेना ने सीमा पर किबिथू के निकट शनिवार सुबह साढ़े नौ बजे भारतीय सैनिकों को हवाले किया। पांचों युवक स्वस्थ और अच्छी हालत में हैं।

गत 2 सितंबर को शिकार और परंपरागत औषधि खोजने के शौक में ये युवा जंगलों में विचरण करते हुए गलती से एलएसी पार कर चीनी इलाके में चले गए। जानकारी मिलते ही सेना ने पीएलए से स्थानीय स्तर पर बातचीत शुरू की तो कूटनीतिक के स्तर पर भी इस मुद्दे को उठाते हुए भारत ने युवकों की रिहाई का चीन पर दबाव बनाया।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस