भारतीय सेना बेंगलुरु की एक कंपनी, अल्फा डिजाइन के नेतृत्व वाले संयुक्त उद्यन (JV) से करीब 100 ड्रोन, स्काईस्ट्राइकर (SkyStriker) खरीदने के लिए तैयार है। जिसमें इजराइली फर्म एल्बीट सेक्युरिटी सिस्टम भी शामिल है। यह ड्रोन देश की सुरक्षा को बढ़ा देगा। स्काईस्ट्राइकर की मदद से भविष्य के किसी भी हमले को रोका जा सकेगा। साथ ही बालाकोट की तरह हवाई हमले भी कर सकते हैं।

भारतीय सेना 1 सिंतबर को 100 करोड़ रुपए के अनुबंध पर कंपनी से करार किया है। बता दें स्काईस्ट्राइकर ड्रोन बड़े पैमाने पर विनाश करने में सक्षम है। इसकी रेंज 100 किलोमीटर है। यह अपने लक्ष्य के करीब पहुंचकर खुद को विस्फोट से नष्ट कर लेता है। यह खतरनाक ड्रोन 10 किलो विस्फोटक लेकर उड़ान भरने में सक्षम है। यह मानवरहित हथियार है। ऐसे में देश के जवानों को भी इससे कोई खतरा नहीं है। स्काईस्ट्राइकर 10 मिनट में 20 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता है। इस ड्रोन की खासियत यह है कि अपने लक्ष्य को खुद ढूंढकर उनपर अटैक करता है।

Posted By: Navodit Saktawat