नई दिल्ली। रेल मंत्री पियूष गोयल ने मंगलवार को सेवा सर्विस नाम से शुरू की गई 9 ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह ट्रेनें रेलवे के पास उपलब्ध संसाधनों का सदुपयोग करके यात्रियों को बेहतर सुविधाएं देने के उद्देश्य से शुरू की गई हैं। रेल मंत्री के अनुसार यह ट्रेनें प्रधानमंत्री के उस विजन को पूरा करेंगी जिसके तहत रेलवे के पास उपलब्ध संसाधनों को एकत्रित करते हुए ग्रामिण इलाकों में ट्रेन सेवा शुरू की जाने की बात है। उनके इस सुझाव के आधार पर आने वाले समय में और भी ट्रेनें शुरू की जाएंगी।

जानिए क्या है रेलवे की सेवा सर्विस

दरअसल, रेलवे ने बड़े शहरों को छोटे शहरों से जोड़ने और दैनिक यात्रियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए "सेवा सर्विस" शुरू की है। इसके तहत चलने वाली ट्रेनों के लिए नया निवेश नहीं किया गया है। जो रैक और इंजन यार्ड में खड़े रहते थे, उनका सदुपयोग किया जा रहा है।

इसलिए शुरू की गई सेवा

इस सेवा को शुरू करने का एक और कारण यह था कि छोटे स्टेशन्स से यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए लंबी दूरी और तेज गति से चलने वाली ट्रेनों को सभी स्टेशनों पर ठहराव नहीं दिया जा सकता है। इस तरह ऐसी ट्रेनें चलाकर यात्रियों की परेशानी दूर की जा सकती है।

रेलवे द्वारा जो ट्रेनें शुरू की गई हैं उनमें से कुछ ऐसी हैं जो हफ्ते से सातों दिन चलेगी वहीं कुछ केवल 6 दिन चलेगी। ऐसे में हम आपको यहां उन ट्रेनों की लिस्ट देने जा रहे हैं जो रेलवे ने शुरू की हैं और कब से कब तक चलेंगी।

ये सेवा सर्विस ट्रेनें सप्ताह में सातों दिन चलेंगी

-दिल्ली से शामली (दिल्ली-उप्र)

-मुरकंगसेलेक-डिब्रुगढ़ पैसेंजर (असम)

-भुवनेश्वर-नयागढ़ टाउन एक्सप्रेस (ओडिशा)

-पलानी-कोयंबटूर पैसेंजर (तमिलनाडु)

-कोटा से झालावाड़ सिटी (राजस्थान)

सप्ताह में छह दिन चलेंगी

-वडनगर से मेहसाणा (गुजरात)

-असरवा से हिम्मतनगर (गुजरात)

-करूर से सेलम (तमिलनाडु)

-यशवंतपुर-तुमकूर डीईएमय (कर्नाटक)

-कोयंबटूर-पोलाच्ची पैसेंजर (तमिलनाडु)

Posted By: Ajay Barve