नई दिल्ली। उत्तराखंड में भारतीय रेलवे कनेक्टिविटी को बढ़ा रहा है, ताकि तीर्थयात्रियों को आरामदायक और सुविधाजनक सफर मिल सके। अभी कई जगहों की तक रेलवे कनेक्टिविटी और लाइन नहीं होने से लोगों को परेशानी उठानी पड़ती थी। भारतीय रेलवे योग नगरी ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक उत्तरी राज्य उत्तराखंड में एक नई ब्रॉड गेज रेल लाइन बिछा रहा है। तीर्थयात्रियों के लिए ट्रेन यात्रा आसान बनाने के अलावा, ब्रॉड गेज रेलवे लाइन से राज्य के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की उम्मीद है।

रेल मंत्री पीयूष गोयल के अनुसार, यह ब्रॉड गेज रेल लाइन पर्यटन, व्यापार को बढ़ावा देने के साथ-साथ राज्य के पांच जिलों के बीच भारतीय रेलवे की कनेक्टिविटी प्रदान करेगी। रेलवे मंत्रालय द्वारा साझा किए गए विवरण के अनुसार, इस नई रेल लाइन के होने से भक्त आसानी से पूरे क्षेत्र में स्थित सभी पवित्र मंदिरों की यात्रा कर सकेंगे। रेल लाइन नए ट्रेड सेंटर से भी जुड़ेगी। देवप्रयाग, श्रीनगर, रुद्रप्रयाग, गौचर, कर्णप्रयाग, देहरादून, टिहरी गढ़वाल, पौड़ी गढ़वाल, रुद्रप्रयाग और चमोली को जोड़ने वाली 125 किलोमीटर लंबी ब्रॉड गेज रेल लाइन विभिन्न प्रमुख स्थानों से होकर गुजरेगी।

ब्रॉड गेज रेल लाइन परियोजना में 12 नए रेलवे स्टेशन, 17 सुरंगें और 16 पुल होंगे। इस रेल लाइन पर 16,216 करोड़ रुपए खर्च किए जाने की संभावना है। रेल मंत्रालय के अनुसार, उत्तराखंड में आगामी ब्रॉड गेज रेल लाइन दिसंबर 2024 तक पूरी हो जाएगी। इस वर्ष की शुरुआत में, रेल मंत्री ने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि उनके मंत्रालय ने दिसंबर 2023 तक भारतीय रेलवे नेटवर्क के बैलेंस ब्रॉड गेज मार्गों को विद्युतीकृत करने की योजना बनाई है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan