Insurance Alert: कोरोना महामारी के चलते बहुत सी चीजों में बदलाव देखने को मिले हैं एक बदलाव बीमा कंपनियों में भी देखने को मिल रहे हैं। बतादें कि जब से कोरोना महामारी ने दस्तक दी है तब से ही क्लेम में जबरदस्त इजाफा देखने को मिला है। ऐसी स्थिति में बीमा कंपनियों ने भी अपने नियमों में एक बदलाव किया है जिसके पूरा न होने की वजह से आप इंश्योरेंस का लाभ नहीं ले सकते हैं। कई कंपनियों ने अब टर्म इंश्योरेंस के लिए वैक्सीनेशन की शर्त रख दी है, जिसके अनुसार अगर वैक्सीनेशन नहीं है तो टर्म इंश्योरेंस भी नहीं मिलेगा।

कई बीमा कंपनियों ने साफ निर्देश दिए हैं कि अगर आपको टर्म इंश्योरेंस चाहिए तो इसके लिए आपको वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दिखाना होगा। इसके बिना आप टर्म इंश्योरेंस का लाभ नहीं ले सकते हैं। मेक्स लाइफ और टाटा एआईए जैसी इंश्योरेंस कंपनियों ने लोगों से टर्म इंश्योरेंस लेते वक्त अनिवार्य रूप से वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट मांगना शुरू कर दिया है। एक रिपोर्ट के अनुसार मेक्स लाइफ 5 से ऊपर के लोगों की तभी इंश्योरेंस पाॅलिसी बेच रही है जब वो वैक्सीन सर्टिफिकेट दे रहे हैं। इसी तरह टाटा एआईए भी सभी आयु वर्ग के लोगों को कम से कम एक वैक्सीन की डोज के बाद ही पाॅलिसी जारी कर रही है।

वैक्सीनेशन के बाद 7-15 दिन का कूलिंग ऑफ पीरियड आईसीआईसीआई प्रोडेंसियल, टाटा एआईए और एग्लोन लाइफ जैसी बड़ी बीमा कंपनियों ने भी रखा है जहां नई पाॅलिसी एप्लीकेशन को टेम्परेरी रूप से स्थगित किया जा रहा है। आईसीआईसीआई प्रोडेंशियल के प्रवक्ता ने ET को बताते हुए कहा है कि कोविड 19 के टीके लगने के बाद बहुत से लोगों में कई बार ऐसा देखा गया है कि उनमें अतिसंवेदनशीलता या दूसरे रिएक्शन सामने आते हैं।

बीमा कंपनियों ने इस ओर पाॅलिसीधारकों के हित की बात करते हुए टाटा एआईए के प्रवक्ता ने बताया कि हमारे पाॅलिसीधारकों को उच्चतम स्तर की वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हम सुनिश्चित करते हैं कि उनके हितों की हर समय रक्षा की जाए। प्रवक्ता ने कहा कि हमारी नीतियां उभरती हुई वास्तविकताओं को दर्शाती है। हम अपने कामों में उपभोक्ता-केंद्रित होने के साथ-साथ विवेकपूर्ण भी बने हुए हैं। हालांकि मेक्स लाइफ ने इस विषय पर अब तक कोई भी टिप्पणीं नही की है।

दरअसल कोरोना की दूसरी लहर में बीमा इंश्योरेंस कंपनी के क्लेम में काफी अधिक मात्रा में बढ़ोत्तरी देखी गई है। अगर लोग होम आइसोलेशन के जरिए भी कोविड-19 नेगेटिव होते हैं तो उन्हें 3 माह तक किसी भी इंश्योंरेंस कंपनी से टर्म इंश्योरेंस नहीं मिल पाएगा। साथ ही कंपनी टेलीमेडिकल के स्थान पर अब टर्म इंश्योरेंस के लिए फुल मेडिकल टेस्ट पर ही जोर दे रही है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags