जोधपुर, 29 नवम्बर। जोधपुर के रातानाडा थाने में जालौर के एएसपी नरेंद्र चौधरी और उनकी पत्नी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है। एएसपी नरेंद्र चौधरी की पत्नी के द्वारा संचालित कोचिंग सेंटर में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की ओर से धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए रातानाडा थाने में मामला दर्ज कराया गया है। जोधपुर में जनसंवाद करने पहुंचे एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी के सामने भी छात्रों ने पत्र लिखकर अपनी व्यथा सुनाई थी इसके बाद इस मामले में उच्च अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद मामला दर्ज हुआ है।

छात्रों का आरोप है कि कोचिंग सेंटर में गारंटीड सलेक्शन के नाम पर भर्ती कराया गया था लेकिन सलेक्शन नहीं होने पर पैसे वापस नहीं दिए गए। पूर्व में मामला बढ़ता देख कुछ विद्यार्थियों को इस बारे में चेक दिए गए थे जो कि बैंक में लगाने पर बाउंस हो गए थे। वही लगातार छात्रों को डराने और धमकाने का काम भी संचालकों द्वारा किया जा रहा था, जिसमें कि एएसपी नरेंद्र चौधरी के पद का प्रभाव दिखाकर छात्रों को धमकाया जाता था।

यह मामला गोविंद सिंह रतनू की रिपोर्ट पर दर्ज हुआ है। रातानाडा पुलिस ने बताया कि मामले की जांच सब इंस्पेक्टर भंवर सिंह को दी गई है। छात्रों ने 2018 से 2022 के बीच कोचिंग सेंटर में प्रवेश लिया था। उस समय नरेंद्र सिंह भी जोधपुर में ही पोस्टेड थे। नरेंद्र सिंह की पत्नी की ओर से जोधपुर के रातानाडा इलाके में एक कोचिंग सेंटर संचालित किया जा रहा है जिसमें की पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती को लेकर तैयारियां कराई जाती है।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close