श्रीनगर। भारत से कई मोर्चों पर करारी हार का सामना कर चुका पाकिस्‍तान बौखलाया हुआ है। समय-समय पर सीजफायर का उल्‍लंघन करने के बाद अब पाकस्तिान और इसके द्वारा प्रशिक्षित आतंकी नई खुराफात की फिराक में रहते हैं। पाकिस्तान और आतंकियों के हैंडलर्स अब हताश हो चुके हैं, इसलिए वे जम्मू-कश्मीर की जनता को भड़काने के लिए विभिन्न् रणनीतियों पर काम कर रहे हैं। राज्य के डीजीपी दिलबाग सिंह ने सोमवार को यहां राज्य पुलिस को आगाह किया कि वे ऐसे प्रयासों के प्रति सतर्क रहें। श्रीनगर जिला पुलिस ऑफिस में जोनल सायबर पुलिस स्टेशन का शुभारंभ करते हुए डीजीपी ने कहा कि पाकिस्तान व आतंकियों के हैंडलर्स अब हिंसा व अन्य तरीकों से राज्य की जनता को उकसाने का प्रयास कर रहे हैं। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि इस मौके पर डीजीपी ने श्रीनगर जिले में सुरक्षा व कानून-व्यवस्था की समीक्षा भी की। पाक व आतंकियों के हैंडलर्स हुए हताश, उकसाने की कोशिश में हैं। सिंह ने पुलिस अमले से कहा कि वह उन तत्वों की पहचान करें जो तोड़फोड़ व अन्य गड़बड़ी करते हुए केंद्र शासित राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगाड़ सकते हैं।

कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए बधाई

डीजीपी ने शांति व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए राज्य के पुलिस अफसरों को बधाई भी दी। उन्होंने कहा कि आतंकवाद की चुनौतियों से प्रभावी ढंग से निपटा गया है, लेकिन इस पर पूरी तरह काबू पाने के लिए और काम करने की जरूरत है। आतंकी हिंसा व शरारती तत्वों के खिलाफ कार्रवाई को उपयुक्त जांच के माध्यम से निर्णायक मुकाम तक पहुंचाना है। शरारती तत्वों को सख्त कानूनों के तहत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

Posted By: Navodit Saktawat