जहां एक तरफ देश में Covid-19 संकमण बढ़ रहा है वहीं इसे रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिनों के Lockdown का ऐलान किया है। इस लॉकडाउन के बीच लोगों में डर का भी माहौल है और हल्की सर्दी खांसी से भी लोग डर रहे हैं। हालात तो यहां तक हैं कि लोगों को मौत का डर सताने लगता है। ऐसे ही एक मामले में एक शख्स ने तो कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका में खुदकुशी ही कर ली और अपने सुसाइड नोट में परिवार को जांच करवाने के लिए कह गया।

मामला कर्नाटक के उडुपी जिले का है जहां 56 साल के एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली है। बुधवार को इस शख्स ने इस बात के डर से आत्महत्या कर ली की वो गलती से Covid-19 संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ गया है। इस डर के कारण उसने पेड़ से लटककर फांसी लगा ली। अपने सुसाइड नोट में उसने परिवार को कहा है कि वो लोग भी जाकर कोरोना वायरस संक्रमण की जांच करवा लें।

हालांकि, पुलिस ने कहा कि इस शख्स का नाम उस लिस्ट में नहीं था जिन्हें घर में रहने के लिए कहा गया था और ना ही उसमें कोरोना वायरस के संक्रमण के कोई लक्षण भी नजर नहीं आए थे। आत्महत्या करने वाले शख्स के पीछे उसकी पत्नी और दो बच्चे रह गए हैं। आत्महत्या के बाद इस शख्स के गले से स्वैब का सैंपल लेकर भेजा गया है और रिपोर्ट का इंतजार है।

वहीं कोरोना की आशंका से आत्महत्या करने वाले इस शख्स को लेकर लोगों के बीच चर्चा जारी है वहीं प्रशासन ने लोगों को डरने या घबराने से रोकते हुए कहा है कि लोग डरें नहीं बल्कि सतर्क रहें। बता दें कि सरकार ने देश में 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की है लेकिन लगातार समझाए जाने के बाद लोगों के बीच इस बीमारी के कारण डर पसरा हुआ है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket