पलक्कड़। केरल के पलक्कड़ के एक जिला अस्पताल में गुरुवार को एक रिमांड में लाए गए कैदी की मौत हो गई। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रामनकुट्टी 18 फरवरी से रिमांड कैदी के रूप में जेल में बंद था। जेल के अंदर बेहोश होने के बाद उसे गुरुवार सुबह अस्पताल में भर्ती कराया गया था। एक वरिष्ठ जेल अधिकारी ने बताया कि हमें संदेह है कि उसने जेल परिसर में कैदियों द्वारा बनाई गई सैनिटाइजर को पी लिया था।

दरअसल, कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए राज्य सरकार के निर्देशों के अनुसार, जेल में भी कैदियों के लिए सैनिटाइजर्स की व्यवस्था कराई जा रही है। इस दौरान संभवतः वह शराब समझकर सैनिटाइजर को पी गया था। हालांकि, मौत का सही कारण तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चलेगा। अधिकारियों ने कहा कि वह मंगलवार रात को सामान्य था और बुधवार को रोल कॉल के लिए भी मौजूद था, लेकिन करीब 10.30 बजे चक्कर खाकर गिर गया।

जेल अधिकारी आइसोप्रोपिल अल्कोहल (रबिंग अल्कोहल) का उपयोग हाथों को सैनिटाइज करने के लिए करते हैं। पुलिस ने कहा कि उन्होंने मामला दर्ज कर लिया है और मौत का सही कारण शव परीक्षण के बाद ही पता चलेगा। बताते चलें कि चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने लगभग पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। इसकी वजह से दुनियाभर में 27 मार्च 2020 तक 22 हजार से ज्यादा लोग असमय काल के गाल में समा चुके हैं और पांच लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।

वायरस की वजह से भारत में भी मोदी सरकार ने पूरी तरह ताला बंदी कर दी है। इस वायरस का असर लोगों के स्वास्थ्य के साथ ही अर्थव्यवस्था पर भी पड़ रहा है। सरकार ने बड़े राहत पैकेजों का ऐलान किया है। इस बीमारी की अभी तक कोई दवा बाजार में उपलब्ध नहीं है। सामाजिक मेल-जोल से बचना और हाथों को लगातार धोते रहना ही इस वायरस से बचने का एक मात्र तरीका है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket