रांची। PM मोदी गुरुवार को झारखंड से कई अहम सौगात देंगे। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्तर पर किसान मान धन योजना, खुदरा व्यापारिक एवं स्वरोजगार पेंशन योजना तथा एकलव्य मॉडल विद्यालय का शुभारंभ रांची से करेंगे। इसके साथ ही झारखंड विधानसभा के नए भवन और साहिबगंज के मल्टी मॉडल टर्मिनल (बंदरगाह) का उद्घाटन कर वह झारखंडवासियों को भी विशेष तोहफा देंगे। PM यहां 1238 करोड़ की लागत से बनने वाले झारखंड सचिवालय के नए भवन का भी शिलान्यास करेंगे।

क्‍या है मानधन योजना

किसानों को सामाजिक सुरक्षा कवच उपलब्ध कराने के लिए मासिक पेंशन के रूप में प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना लागू की जा रही है। इस योजना के तहत 18 से 40 वर्ष के उम्र के किसानों का रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। किसानों को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी। किसान मान धन योजना के लिए झारखंड में एक लाख नौ हजार से अधिक किसानों का पंजीकरण हो चुका है।

खुदरा दुकानदारों के लिए पेंशन योजना : देश के खुदरा व्यापार करने वाले दुकानदारों और स्वरोजगार करने वाले को पेंशन की योजना से जोड़ने की पहल की है। इसके तहत 18 से 40 वर्ष के खुदरा व्यापारियों एवं दुकानदारों को भी 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद 3000 रुपये प्रतिमाह पेंशन मिलेगी।

आ रहे 12वीं बार : यह पीएम का झारखंड का 12वां दौरा होगा। आयुष्मान जैसी केंद्र की महत्वपूर्ण योजना की लांचिंग उन्होंने झारखंड की धरती से की थी। उज्ज्वला योजना की शुरुआत में भी बड़ा कार्यक्रम किया था। अब देश की जनता को तीन बड़ी केंद्रीय योजनाओं की सौगात देने के लिए वह एक बार फिर झारखंड में होंगे।

झारखंड से विशेष लगाव : भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि PM मोदी पांच वर्ष और सौ दिनों में एक दर्जन बार झारखंड आए हैं। यह झारखंड के प्रति उनके स्नेह को दर्शाता है। अभी पिछले दिनों योग दिवस पर अंतरराष्ट्रीय आयोजन के लिए भी उन्होंने रांची का ही चयन किया। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजयेपी ने जिस उद्देश्य के साथ झारखंड को अलग राज्य बनाया था, उन्हीं के सपनों का झारखंड बनाने के लिए प्रधानमंत्री झारखंड से ही कई बड़ी योजनाओं की शुरुआत कर रहे हैं।

Posted By: Navodit Saktawat