लखनऊ। कुंभ मेला-2019 को श्रद्धालुओं के लिए खास और सुरक्षित बनाने के लिए यूपी पुलिस भी तकनीक के साथ कदम बढ़ा रही है। सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर कुंभ में इस बार पहली बार डिजिटल खोया-पाया केंद्र, डिजिटल वायरलेस सेट समेत कई तकनीकों का उपयोग किया जायेगा। इस कड़ी में डूबते लोगों को बचाने के लिए जल पुलिस के बेड़े में 'लाइफबॉय' को शामिल किया जा रहा है।

रिमोट से संचालित इस उपकरण को नदी की सतह पर तेजी से डूबते हुए व्यक्ति तक पहुंचाया जा सकता है। यह उपकरण डूबता नहीं है और एक प्रकार से लाइफ जैकेट की तरह काम करता है। इसे पकड़कर डूबता व्यक्ति अपनी जान बचा सकेगा। कुंभ में एसडीआरएफ व पीएसी की बाढ़ राहत कंपनियों के जवान भी मुस्तैद होंगे। उनकी नावों पर लाइफबॉय मौजूद रहेंगे। बताया गया कि उपकरण रिमोट के जरिये काफी तेज गति से पानी की सतह पर भागता है।

कई बार ऐसे मौके आते हैं, जब सुरक्षाकर्मियों के लिए डूबने वाले व्यक्ति तक तत्काल बोट लेकर अथवा तैर कर पहुंचना संभव नहीं होता। ऐसी स्थिति में जल पुलिस लाइफबॉय को डूबने वाले व्यक्तियों तक फौरन पहुंचा सकेगी और फिर पुलिसकर्मी खुद पहुंचकर उसे सुरक्षित बाहर निकाल सकेंगे।

उपकरण को रिमोट के जरिए दायें-बायें घुमाने की भी सुविधा के चलते पुलिसकर्मी उसे आसानी से पीड़ित व्यक्ति के हाथों के पास तक पहुंचा सकेंगे। इसके अलावा जल पुलिस के पास लाइफ जैकेट, रेस्क्यू ट्यूब, थ्रो बैग, स्पीड बोट, रेस्क्यू बोट, फ्लैग बोट, डाइविंग सूट, सर्च ऑपरेशन रेस्क्यू बोट समेत अन्य उपकरण भी होंगे।

Posted By: