नई दिल्ली। सरकारी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने भारतमाला परियोजना के लिए 2024 तक 1.25 लाख करोड़ रुपये का सरल कर्ज देना स्वीकार किया है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक साक्षात्कार में कहा कि LIC ने सालभर में 25,000 करोड़ रुपये और पांच साल में 1.25 लाख करोड़ रुपये की पेशकश की है। उन्होंने सैद्धांतिक सहमति दी है। हम राजमार्गों के निर्माण में इस फंड का इस्तेमाल करेंगे। LIC के चेयरमैन आर कुमार ने पिछले सप्ताह गडकरी से मुलाकात की थी।

इस परियोजना की संशोधित लागत बढ़कर 8.41 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। शुरू में इस परियोजना को 5.35 लाख करोड़ रुपये की लागत के साथ मंजूरी मिली थी।

एक अधिकारी ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) और एलआइसी के अधिकारी एक साथ बैठकर अन्य विवरण तय करेंगे, जिनमें ब्याज दर और कर्ज की वापसी भी शामिल होंगे। यह कर्ज बांड के रूप में लिया जाएगा और इसे एनएचएआइ जारी करेगी। मंत्री ने कहा कि हमारे पास फंड की कमी नहीं है। परियोजना जैसी ही पूरी होगी, इसका मौद्रीकरण होगा। इस प्रक्रिया से मिले फंड का उपयोग भी राजमार्गों के निर्माण में किया जाएगा।

Posted By: Arvind Dubey

Assembly elections 2021
elections 2022
  • Font Size
  • Close