BJP National Executive Meet हैदराबाद । भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक हैदराबाद में हो रही है, जिसका उद्घाटन भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किया। इस बैठक में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आज शाम को हैदराबाद पहुंच रहे हैं, लेकिन तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेकर राव (KCR) ने इस बार फिर प्रधानमंत्री मोदी की अगवानी करने नहीं पहुंचेंगे। आमतौर पर प्रोटोकॉल के तहत मुख्यमंत्री ही प्रधानमंत्री मोदी का वेलकम करते हैं, लेकिन तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव 5 महीने में तीसरी बार उनसे नहीं मिलेंगे।

2 और 3 जुलाई को भाजपा का मंथन

हैदराबाद में भाजपा की 2-3 जुलाई को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हो रही है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह सहित कई दिग्गज नेता शामिल हो रहे हैं। आपको बता दें कि हैदराबाद में 18 साल बाद भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हो रही है, जिसमें करीब 350 सदस्य शामिल होंगे।

पहले भी PM मोदी का सामना करने से कतराए KCR

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी जब हैदराबाद में ISB के 20वें वार्षिक दिवस समारोह और बिजनेस स्कूल के स्नातक समारोह में हिस्सा लेने के लिए 26 मई को हैदराबाद पहुंचे थे, तब भी KCR प्रधानमंत्री मोदी से नहीं मिले थे। तब KCR देवगौड़ा से मिलने बेंगलुरु चले गए थे। निकल गए थे। वहीं जब 5 फरवरी को प्रधानमंत्री मोदी मुचिन्तल में Statue of Equality मूर्ति का अनावरण करने के लिए हैदराबाद पहुंचे थे तो केसीआर ने कहा था कि वे कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं।

भाजपा से इसलिए नाराज है KCR

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (KCR) लंबे समय से छोटे दलों को एकजुट करने की कोशिश कर रहे हैं। फरवरी में केसीआर ने उद्धव ठाकरे और शरद पवार से मुलाकात की थी, लेकिन महाराष्ट्र की सरकार गिरने के बाद उनकी उम्मीद टूट गई। केसीआर छोटे दलों को एकजुट कर देश में तीसरा मोर्चा बनाना चाहते हैं। केसीआर की पार्टी TRS ने राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा की उम्मीदवारी का समर्थन किया है। टीआरएस के 9 लोकसभा सदस्य, 7 राज्यसभा सदस्य और 101 विधायक हैं।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close