Live Happy Republic Day 2023 । राजधानी दिल्ली में आज कड़ी सुरक्षा के बीच गणतंत्र दिवस की परेड का आयोजन किया गया। अब से कुछ देर पहले कर्तव्य पथ पर राष्ट्रगान के साथ गणतंत्र दिवस 2023 परेड का समापन हुआ। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और गणतंत्र दिवस परेड के मुख्य अतिथि मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी कर्तव्य पथ से राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना हो गए हैं।

इससे पहले देश के अलग राज्यों में झांकियों का प्रदर्शन किया गया और तीनों सेनाओं ने अपना शौर्य दिखाया। कर्तव्यपथ पर उस समय लोगों के रौंगटे खड़े हो गए, जब राफेल विमानों ने आसमान चीरते हुए दहाड़ के साथ अपना शौर्य दिखाया। गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस के मौके पर पहली बार कर्तव्य पथ पर परेड हो रही है। इससे पहले इसे राजपथ के नाम से जाना जाता था।

सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी का कर्तव्यपथ पर स्वागत किया। देश में आज पहली बार किसी महिला आदिवासी राष्ट्रपति ने परेड की सलामी ली। राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया और उसके बाद 21 तोपों की सलामी के साथ राष्ट्रगान हुआ और फिर परेड की शुरुआत हुई।

Image

Image

कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्चिंग मिस्र के सशस्त्र बलों का संयुक्त बैंड और मार्चिंग दल है। दल का नेतृत्व कर्नल महमूद मोहम्मद अब्देल फत्ताह एल खारासावी ने किया। लेफ्टिनेंट कमांडर दिशा अमृत के नेतृत्व में 144 युवा नाविकों की नौसेना टुकड़ी ने आकस्मिक कमांडर के रूप में कर्तव्य पथ पर मार्च किया। इतिहास में पहली बार मार्च करने वाली टुकड़ी में 3 महिलाएं और 6 पुरुष अग्निवीर शामिल हैं।

Image

आतंकी हमले की खतरे के मद्देनजर राजधानी दिल्ली में चप्पे चप्पे पर पुलिस और सुरक्षाबलों के जवान तैनात है और कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। अब से कुछ देर पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उनके साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, तीनों सेनाओं के प्रमुख और चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ मौजूद रहे।

Image

मालदीव ने भारत को दी बधाई

इससे पहले मालदीव के विदेश मंत्री ने कहा कि भारतीय संविधान की सफलता राष्ट्रों के लिए एक प्रेरणा है और भारतीय लोकतंत्र न केवल जीवित है बल्कि फल-फूल रहा है। गणतंत्र दिवस पर सरकार और भारत के लोगों को हार्दिक शुभकामनाएं। हम भारत की शांति, प्रगति और समृद्धि की कामना करते हैं।

राजधानी में अशोका रोड पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। परेड के दौरान करीब 6 हजार जवानों को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है, जिसमें दिल्ली पुलिस के साथ ही अर्धसैनिक बल और एनएसजी (NSG) के जवान भी शामिल हैं। इस दौरान 150 CCTV कैमरों से कर्तव्य पथ की निगरानी की जाएगी।

Image

पीएम मोदी ने दी बधाई

पीएम मोदी ने दी गणतंत्र दिवस की बधाई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गणतंत्र दिवस पर सभी देशवासियों को बधाई दी। प्रधानमंत्री ने ट्वीट में कहा कि गणतंत्र दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं। इस बार का यह अवसर इसलिए भी विशेष है, क्योंकि इसे हम आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान मना रहे हैं। देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को साकार करने के लिए हम एकजुट होकर आगे बढ़ें, यही कामना है।

इधर बिहार में राज्यपाल फागू चौहान ने 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर पटना में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मिजोरम में मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा ने 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर आइजोल के मुख्यमंत्री कार्यालय में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। जयपुर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने जामडोली के केशव विद्यापीठ में 74वें गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लिया।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह ने दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में तिरंगा फहराया। और ओडिशा के राज्यपाल गणेशी लाल ने राजधानी भुवनेश्वर में 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस दौरान मुख्यमंत्री नवीन पटनायक भी मौजूद रहे। केरल के कोच्चि में दक्षिणी नौसेना कमान द्वारा 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर आयोजित परेड में वाइस एडमिरल एमए हम्पिहोली, फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ शामिल हुए।

90 मिनट की परेड में निकलेगी 23 झांकियां

आज गणतंत्र दिवस पर 90 मिनट की परेड निकाली जाएगी और इस दौरान अलग-अलग राज्यों की कुल 23 झांकियां भी निकाली जाएगी। अलग-अलग राज्यों की ये सभी झांकियों भी अलग-अलग थीम पर निर्मित की गई है। इसमें से ज्यादातर झांकियों की थीम नारी सशक्तिकरण को लेकर होगी। 17 झांकियां देश के अलग अलग राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की होंगी, वहीं 6 झांकियां अलग सरकारी मंत्रालयों और विभागों ने तैयार की है।

राज्यों ने इस थीम पर तैयार की है झाकियां

उत्तर प्रदेश – अयोध्या दीपोत्सव

हरियाणा – अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव

उत्तराखंड – मानसखंड

गुजरात – स्वच्छ-हरित ऊर्जा

कर्नाटक – नारी शक्ति उत्सव

पश्चिम बंगाल – दुर्गा पूजा

महाराष्ट्र – साढ़े तीन शक्ति पीठ

झारखंड – बाबा बैद्यनाथ धाम

जम्मू कश्मीर – नया जम्मू कश्मीर

असम – सेनानियों-अध्यात्म की भूमि

भारत में बनी फील्ड गन से दी जाएगी 21 तोपों की सलामी

राजधानी दिल्ली में आज परेड के दौरान 'स्वदेशी' का संदेश देते हुए मेड इन इंडिया हथियारों पर अहम फोकस होगा। 21 बंदूकों की सलामी भी भारत में बनी 105 एमएम की इंडियन फील्ड गन्स से दी जाएगी। भारत निर्मित ब्रह्मोस मिसाइल सिस्टम और आकाश आर्मी लॉन्चर समेत नाग मिसाइल सिस्टम, K9 वज्र आर्टिलरी गन, अर्जुन मार्क 1 टैंक, BMP-2 सारथ, शॉर्ट स्पैन ब्रिज सिस्टम, मोबाइल सेक्युरिटी सिस्टम और क्विक एक्शन टीम व्हीकल का भी परेड के दौरान प्रदर्शन किया जाएगा।

मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी हैं मुख्य अतिथि

इस बार गणतंत्र दिवस पर मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी मुख्य अतिथि हैं। उनके साथ 5 मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों सहित एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी भारत आया हुआ है। भारत और मिस्र इस वर्ष राजनयिक संबंधों की स्थापना के 75 वर्ष मना रहे हैं।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close