Maharashtra leoperd: जैसे-जैसे जंगल कटते जा रहे हैं, जंगली जानवरों और इंंसानों में दूरी घटती जा रही है। यही वजह है कि गांवों की इंसानी बस्तियो में जंगली जानवरों की मौजदूगी की खबरें बढ़ती जा रही हैं। नासिक के एक गांव पाथर्डी के खेत में तेंदुए के तीन बच्चे लावारिस स्थिति में मिले। जैसे ही लोगों को इसकी खबर लगी, उन्होंने फौरन वन विभाग को इसकी सूचना दी। वन विभाग के अधिकारियों ने इलाके को खाली कर उन्हें सुरक्षित निकाला। बाद में ये बच्चे अपनी मां से भी मिल गये, क्योंकि मादा तेंदुआ इनकी तलाश में आसपास ही भटक रही थी। बच्चों की सुरक्षित वापसी से सभी ने राहत की सांस ली।

देखिये, नन्हें शावकों के रेस्क्यू का वीडियो -

रिहाइशी इलाके में तेंदुए की घुसपैठ

महाराष्ट्र के नासिक (Nashik) में तेंदुए के इंसानी इलाकों में घुसपैठ की खबरें बढ़ती जा रही हैं। जुलाई महीने में एक तेंदुआ (Leopard) रिहायशी इलाके में घुस आया। ये तेंदुआ करीब सात बजे सुबह सतपुर (Satpur) इलाके में नजर आया। वन विभाग एवं पुलिस विभाग की टीम मौके पर पहुंची और कई घंटों की मशक्कत के उसे बेहोश किया जा सका। इस दौरान पूरे इलाके में दहशत और अफरा-तफरी का माहौल रहा।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close