Monsoon Session 2020: कोरोना संक्रमण के मद्देनजर अभूतपूर्व सुरक्षा इंतजाम के साथ संसद का मानसून सत्र आज से शुरू हो गया। यह सत्र कुल 18 दिनों का होगा, जो बगैर किसी छुट्टी के लगातार एक अक्टूबर तक चलेगा। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद लोकसभा की कार्यवाही एक घंटे के लिए स्थगित की गई थी, जो वापस शुरू हो गई है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि सरकार के प्रयासों की वजह से देश में कोरोना वायरस को सीमित करने में कामयाबी मिली है। जनसंख्या के हिसाब से सबसे कम प्रभावित देशों में भारत शामिल है।

स्वास्थ्य मंत्री का बयान:

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि देश में कोरोना वायरस की वजह से अधिकांश मौतें महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, बिहार, तेलंगाना, ओडिशा, असम, केरल और गुजरात में हुई हैं। सरकार के प्रयासों से देश में कोरोना को सीमित रखने में कामयाबी मिली है। प्रति 10 लाख जनसंख्या पर भारत में 3328 मामले हैं और 55 मौतें हैं, जो दुनिया में अन्य देशों की तुलना में कम है।

संसद में उठा ड्रग्स का मुद्दा:

भाजपा सांसद रवि किशन ने ड्रग्स का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि नशीले पदार्थों की तस्करी की समस्या बढ़ रही है। देश के युवाओं को बर्बाद करने का षडयंत्र रचा जा रहा है और हमारे पड़ोसी देश इसमें योगदान दे रहे हैं। पाकिस्तान और चीन से ड्रग्स की तस्करी हर साल की जाती है।

लोकतंत्र का गला घोंटने का प्रयास: अधीर रंजन

कांग्रेस के सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि प्रश्नकाल बेहद महत्वपूर्ण होता है, लेकिन आप कहते है कि परिस्थितियों के कारण इसे आयोजित नहीं किया जा सकता है। आप लोकतंत्र का गला घोंटने का प्रयास कर रहे हैं।

पूर्व राष्ट्रपति को दी गई श्रद्धांजलि:

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि वे एक सफल वक्ता और कुशल प्रशासक थे। उनका ज्ञान और अनुभव अद्वितीय था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्र की शुरुआत से पहले संसद भवन पहुंचने पर कहा कि कोरोना भी है और कर्तव्य भी और खुशी की बात है कि सांसदों ने कर्तव्य का रास्ता चुना है। उन्होंने कहा कि सभी को कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना होगा। जब तक दवाई नहीं, तब तक ढ़िलाई नहीं।

पीएम मोदी ने कहा, इस बार विशेष परिस्थितियों में सत्र आयोजित किया जा रहा है और सभी सांसदों ने कर्तव्य पथ पर आगे बढ़ने का फैसला किया है। इस सत्र में कई महत्वपूर्ण निर्णय होंगे। कोरोना गाइडलाइंस का पूरी तरह पालन किया जाएगा। जब तक दवाई (वैक्सीन) नहीं, तब तक ढ़िलाई नहीं। उन्होंने कहा, मुझे विश्वास है कि सभी सदस्य मिलकर यह संदेश देंगे कि पूरा देश जवानों के साथ खड़ा है जो सीमा पर डटकर देश की सेवा कर रहे हैं।

सत्र के दौरान सियासी तापमान बढ़े रहने की संभावना है, क्योंकि विपक्ष चीन के साथ एलएसी पर चल रहे विवाद, अर्थव्यवस्था और कोरोना संकट जैसे मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने की तैयारी में है। सरकार ने 23 विधेयक पेश करने की तैयारी की है और विपक्ष ने स्पष्ट कर दिया है कि वह कम-से-कम चार विधेयकों का विरोध करेगा।

राज्यसभा उपसभापति का चुनाव:

संसद के मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा के उपसभापति का चुनाव होगा। यह थोड़ा गहमा-गहमी भरा होगा, क्योंकि विपक्ष ने राजग के उम्मीदवार हरिवंश के मुकाबले मनोज झा को उतारा है। हालांकि, राज्यसभा के गणित के लिहाज से हरिवंश का चुनाव जीतना तय माना जा रहा है, लेकिन विपक्ष के उम्मीदवार से सरगर्मी थोड़ी बढ़ी हुई है।

चार विधेयकों का खुला विरोध करेगा विपक्ष:

सरकार इस पूरे सत्र में 11 विधेयकों को भी पेश करेगी। हालांकि, कांग्रेस ने इनमें से 4 विधेयकों पर खुले विरोध का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि जिन 4 विधेयकों के विरोध का निर्णय लिया गया है, उनमें 3 कृषि और किसानों से जुड़े है, जबकि एक फाइसेंस से जुड़ा विधेयक है, जिसमें बैकिंग रेगुलेशन एक्ट में बदलाव का प्रस्ताव है।

लोकसभा अध्यक्ष ने तैयारियों का लिया जायजा:

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने रविवार को संसद सत्र की तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान प्रवेश द्वार से लेकर सभा कक्ष तक के सभी सुरक्षा इंतजामों को बारीकी से परखा। साथ ही अधिकारियों को यह निर्देश भी दिया कि सुरक्षा इंतजाम में किसी तरह की चूक नहीं होनी चाहिए। इससे पहले उन्होंने कार्य मंत्रणा समिति के साथ बैठक की, जिसमें बताया कि कोरोना जांच की व्यवस्था पूरे सत्र के दौरान रहेगी।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020