नई दिल्ली। महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को लेकर एक ट्वीट साझा करने पर सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी एमटीएनएल की भारी फजीहत हुई। ट्वीट के बाद गुरुवार को कंपनी की सोशल मीडिया पर जमकर खिंचाई हुई। बाद में कंपनी ने विवादित ट्वीट हटा लिया और कहा कि उसके ट्विटर हैंडल से छेड़छाड़ हुई है। कंपनी का दावा है कि उसने जांच के लिए ट्विटर से संपर्क किया है।

महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (MTNL) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट साझा किया गया। यह ट्वीट उद्योगपित मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी के एक फर्जी खाते से किया गया था। नीता अंबानी के फर्जी खाते से हिंदी में ट्वीट किया गया था, 'आज हिंदू गोडसे के समर्थन मात्र से डर जाते हैं, जबकि मुसलमान अपने बच्चों का नाम तैमूर रखकर भी फख्र महसूस करते हैं।' MTNL ने इस ट्वीट को साझा करते हुए हिंदी में लिखा, 'सच को पहचानना मुश्किल है।' MTNL के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक पीके पुरवार ने कहा कि कंपनी को उसके ट्विटर खाते से छेड़छाड़ का अंदेशा है।