Mumbai Cruise Drugs Case: मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में एनसीबी की चार्जशीट में आर्यन खान को क्लीन चिट मिल गई है। वहीं केंद्र सरकार ने इस केस के जांच अधिकारी समीर वानखेड़े के खिलाफ सख्त एक्शन लेने को कहा है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक सरकार ने सक्षम प्राधिकारी से एनसीबी के पूर्व अधिकारी समीर वानखेड़े के खिलाफ आर्यन खान ड्रग्स बरामदगीम मामले में उनकी खराब जांच के लिए उचित कार्रवाई करने को कहा है। समीर वानखेड़े के फर्जी जाति प्रमाण पत्र मामले में भी कार्रवाई चल रही है।

एनसीबी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, 'उसकी मुंबई शाखा ने पिछले साल 2 अक्टूबर को विक्रांत, इश्मीत, अरबाज, आर्यन व गोमित को मुंबई पोर्ट ट्रस्ट के इंटरनेशनल पोर्ट टर्मिनल और नुपुर, मोहतर और मुनमुन को कॉर्डेलिया क्रूज पर रोका था। आर्यन और मोहक को छोड़कर सभी आरोपियों के पास नशीला पदार्थ पाया गया।' शुरुआत में मामले की जांच एनसीबी मुंबई ने की। बाद में उप महानिदेशक (संचालन) संजय कुमार सिंह की अध्यक्षता में नई दिल्ली में एनसीबी मुख्यालय से एक विशेष जांच दल का गठन किया गया था। पिछले साल 6 नवंबर को केस एसआईटी ने अपने हाथों में ले लिया था। एनसीबी ने कहा कि एसआईटी ने वस्तुनिष्ठ तरीके से अपनी जांच की।

एनसीबी के बयान में आगे लिखा गया, 'पर्याप्त सबूतों की कमी के कारण 6 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज नहीं की जा रही है।' बता दें आर्यन खान को पिछले साल मुंबई के एक क्रूज पर ड्रग मामले में गिरफ्तार किया गया था। छापे के एक दिन बाद मुनमुन धमेचा और अरबाज मर्चेंट को भी अरेस्ट कर लिया गया। 26 दिनों तक हिरासत में रहने के बाद उन्हें 28 अक्टूबर को जमानत दे दी गई थी। आर्यन को प्रतिबंधित सामग्री के उपभोग, बिक्री और खरीद में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close