नवरात्रि के ठीक पहले एक अनूठी खबर सामने आई है। एक दुर्गा पंडाल में इस बार परंपरा बदल दी गई है। कोलकाता के एक पूजा पंडाल में पारंपरिक दुर्गा की मूर्ति की जगह एक महिला की मूर्ति लगी है, जिसमें वह महिला बच्चे को गोद में उठाए खड़ी है। इसे बनाने वाले कलाकार कहते हैं यह विचार उन्‍हें लॉकडाउन के दौरान आया था जब उन्‍होंने प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा देखी थी। 17 अक्‍टूबर, शनिवार से शारदीय नवरात्र का आरंभ हो रहा है। कोरोना संकट के चलते इस बार सारे पर्व एवं त्‍योहार सूने बीते हैं। इस क्रम में नवरात्र भी अपवाद नहीं है। हर साल की तरह सार्वजनिक रूप से उत्‍सव की धूम तो नहीं रहेगी लेकिन माता की आराधना में कोई कमी नहीं रहेगी। दिल्ली के छतरपुर में श्री आद्या कात्यायनी शक्तिपीठ मंदिर, सभी नवरात्रि समारोहों से पहले शुरू हुआ, जो कल से शुरू होगा। COVID19 के मद्देनजर सभी व्यवस्थाएं, मंदिर परिसर में भी की गईं हैं।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020