Surveillance Mission: भारतीय नौसेना की महिलाओं के एक दल ने हवाई अभियान में डोरनियर 228 विमान से उत्तरी अरब सागर का समुद्री टोही और निगरानी अभियान पूरा कर लिया है। भारतीय नौसेना ने इस अभियान को तीन अगस्त को पूरा किया। इस विमान की कैप्टन पायलट मिशन कमांडर लेफ्टिनेंट कोमोडोर आंचल शर्मा के नेतृत्व में पायलट लेफ्टिनेंट शिवांगी और लेफ्टिनेंट अपूर्वा गीते भी थीं। इस टीम का अहम हिस्सा टेक्टिकल और सेंसर अधिकारी लेफ्टिनेंट पूजा पांडा और सेकेंड लेफ्टिनेंट पूजा शेखावत भी रहीं।

3 अगस्त को पूरा किया मिशन पूरा

भारतीय नौसेना के मुताबिक भारतीय नौसेना में पोरबंदर स्थित नेवल एयर एनक्लेव की पांच महिला नौसैनिक अफसरों ने उत्तरी अरब सागर में डोरनियर 228 से टोह लेने और निगरानी करने का पहला ऐतिहासिक मिशन पूरा किया है।इन अफसरों ने तीन अगस्त, 2022 को यह अभियान पूरा किया है।

अफसरों को प्रशिक्षित किया गया

इस अभियान के लिए महिला अफसरों को कई महीने तक प्रशिक्षित किया गया है। आइएनएएस 314 गुजरात के पोरबंदर में स्थित नौसेना की वायु स्क्वाड्रन अग्रिम मोर्चे का अहम हिस्सा है। इस स्क्वाड्रन की कमान कोमोडोर एसके गोयल के पास है। वह नेविगेशन इंस्ट्रक्टर हैं।

नौसेना में महिलाओं का जुनून

भारतीय नौसेना के अग्निपथ भर्ती योजना के तहत महिलाओं की भर्ती की जा रही है। इंडियन नेवी को 80 हजार से अधिक महिला उम्मीदवारों के आवेदन प्राप्त हुए हैं। नौसेना ने ट्वीट कर बताया कि सीनियर सेकेंडरी रिक्रूट और मैट्रिक रिक्रूट के अग्निपथ योजना के तहत पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close