नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत करने के बाद राज्यसभा में बहुमत को लेकर एनडीए की टेंशन भी खत्म होने जा रही है। एक स्वतंत्र फर्म ने अनुमान जताया है कि केंद्र में भाजपा नीत एनडीए का अगले साल तक राज्यसभा में बहुमत हो जाएगा। भारतीय संसद का रिकॉर्ड रखने वाली फर्म पीआरएस लेजिस्लेटिव रिसर्च का अनुमान है कि अगले साल तक राज्यसभा में भाजपा की दस सीटें बढ़ जाएंगी। यानी वहां इसके सदस्यों की संख्या बढ़कर 83 हो जाएगी। इस तरह भाजपा नीत राजग की 107 सीटें हो सकती हैं। यह संख्या उसकी मौजूदा संख्या से सात ज्यादा और 243 सदस्यीय राज्यसभा में बहुमत से मात्र 15 कम रह जाएगी। राजग की सदस्य संख्या मुख्य रूप से उप्र से बढ़ेगी, जहां पार्टी ने 2017 के विस चुनाव में बड़ी जीत हासिल की थी।

मोदी सरकार के लिए संसद के इस उच्च सदन में बहुमत बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि उसके कई अहम बिल यहां अटके पड़े हैं। किसी भी विधेयक को पारित कराने के संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा में बहुमत जरूरी है।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close