गुरुग्राम। दक्षिण अफ्रीका के बड़े शिया धर्मगुरु और नाइजीरिया के इस्लामिक मूवमेंट के प्रमुख 66 साल के आयतुल्लाह शेख इब्राहिम जकजकी और उनकी पत्नी 57 वर्षीय जीनाह लाराहीम को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनको बुधवार सुबह चार बजे अस्पताल में लाया गया। यहां पर क्रिटिकल केयर यूनिट के हेड डॉ. यतिन मेहता की टीम उनका इलाज कर रही है।

दोनों को अलग-अलग रूम में रखा गया है। सूत्रों का कहना है कि अभी दोनों की कुछ जांच की गई है और गुरुवार को दोबारा जांच की जाएगी। दरअसल, शेख जकजकी साल 2015 से नाइजीरिया की जेल में थे। कई देशों के डॉक्टरों ने आयतुल्लाह की हालत पर चिता जताते हुए उन्हें फौरन रिहा करने के लिए नाइजीरिया सरकार को पत्र लिखा था। आखिर सुप्रीम कोर्ट के दखल पर सरकार ने उन्हें इलाज कराने की छूट दी गई है।