Nirbhaya Case में चारों दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी हुआ है। इसके बाद पवन गुप्ता से उसके परिवार ने मुलाकात की। पटियाला हाउस कोर्ट से डेथ वारंट जारी होने के बाद शुक्रवार शाम उसकी मां औ बड़ी बहन तिहाड़ जेल पहुंचे और सेल में 3 में कैद पवन से मुलाकात की। तीनों के बीच करीब आधा घंटे बात हुई।तिहाड़ जेल में फांसी की तैयारियां जारी हैं। तिहाड़ जेल प्रशासन ने चारों दोषियों के पास अपने परिवार से मिलने की आखिरी तारीख तय कर दी गई है। दोषियों के परिवार से मिलने के लिए 20 जनवरी का समय दिया गया है। तिहाड़ जेल अधिकारियों के मुताबिक, चारों दोषियों को एक साथ फांसी दी जाएगी। इसकी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इसके लिए एक चबूतरा भी बनाया गया है। फांसी के फंदों की मजबूती परखने के लिए डमी एक्जिक्यूशन किया जा चुका है।

तिहाड़ जेल अधिकारियों के मुताबिक, पटियाला हाउस कोर्ट ने 7 जनवरी को डेथ वारंट जारी किया था। तब मुकेश, पवन और विनय के परिवार वालों ने उनके मुलाकात की थी। अक्षय का परिवार उससे नवंबर में भी मिला था। नियमों के अनुसार, कैदियों के परिजन एक हफ्ते में दो बार मिल सकते हैं। मुकेश की मां शुक्रवार को ही बेटे से मिलने आई थी।

मुकेश की मां मांग चुकी है बेटे की जान की भीख

7 जनवरी को जब पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई हो रही थी तब दोषी मुकेश की मां भी कोर्ट में मौजूद थी। मुकेश की मां ने सुनवाई के बीच में निर्भया की मां आशा देवी से पल्लू फहलाकर बेटे की जान की भीख मांगी थी। इस पर निर्भया की मां ने भी कहा था कि कैसे भूलूं कि मेरी बेटी के साथ क्या हुआ था।

Posted By: Arvind Dubey

fantasy cricket
fantasy cricket