Nirbhaya Case में चारों दोषियों, Vinay Sharma, पवन गुप्ता, मुकेश सिंह और अक्षय कुमार के खिलाफ 3 मार्च का डेथ वारंट जारी हुआ है। इस बीच, विनय शर्मा ने एक बार फिर आत्महत्या की कोशिश की। इस बार उसने स्टेपल पिन निगलने की कोशिश की। हालांकि तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने उसे तत्काल रोक लिया और तुरंत डॉक्टरों से जांच करवाई। जेल परिसर में स्थित अस्पताल में उसका इलाज हुआ। इससे पहले शुक्रवार को ही Vinay Sharma और अक्षय कुमार के परिजन को नोटिस जारी कर उनसे आखिरी बार मिलने को कहा है। सबकुछ ठीक रहा तो चारों को 3 मार्च को सुबह 6 बजे एक साथ फांसी के फंदे पर टांग दिया जाएगा।

जेल अधिकारियों के मुताबिक, मुकेश और पवन के परिजन पहले ही उनसे मुकालात कर चुके हैं। पहले कोर्ट ने फांसी के लिए 1 फरवरी की तारीख तय की थी, जिससे एक दिन पहले यानी 31 जनवरी को इन दोनों के रिश्तेदार मिलने आए थे। हालांकि 1 फरवरी को फांसी नहीं हो सकी थी।

हिंसक हो गया Vinay Sharma

Vinay Sharma में चारों दरिंदों पर पैनी नजर रखी जा रही है। जेल अधिकारियों का कहना है कि डेथ वारंट जारी होने के बाद विनय के स्वभाव में सबसे ज्यादा बदलाव आया है। वह खुद पर गुस्सा करने लगा है। इससे पहले भी उसने आत्महत्या की कोशिश की थी। उसने बीती 16 फरवरी को जेल की दीवार पर सिर पटककर खुद को घायल कर लिया था। तिहाड़ जेल प्रबंधन इस घटना की पुष्टि कर चुका है। दीवार पर सिर पटकने की वजह से उसे हल्की चोटें भी आई है जिसका इलाज करा दिया गया है।

इस बीच, डॉक्टर लगातार उसकी जांच कर रहे हैंं और उनके मुताबिक Vinay Sharma की मानसिक और शारीरिक स्थिति स्थिर है। चारों पर सीसीटीवी कैमरे से नजर रखी जा रही है।

जेल अधिकारियों के मुताबिक, चारों जेल का दिया खाना खा रहे हैं, हालांकि उनकी खुराक अब पहले से कम हो गई है।

Posted By: Arvind Dubey

fantasy cricket
fantasy cricket