नई दिल्ली। हैदराबाद नृशंस हत्याकांड के बाद दिल्ली में हुए निर्भया केस में दोषी चारों आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग चारों तरफ से उठ रही है। इसी बीच गृह मंत्रालय द्वारा चार दोषियों में से एक विनय शर्मा की दया याचिका को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास अंतिम निर्णय के लिए भेज दिया गया है। इसी बीच मंगलवार को एक अन्य दोषी अक्षय कुमार सिंह ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा बरकरार रखी गई फांसी की सजा के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल कर दी है। राष्ट्रपति कोविंद द्वारा दया याचिका पर जल्द फैसला लेने की सुगबुगाहट के बीच दोषी अक्षय कुमार सिंह ने याचिका दायर की है।

बता दें कि ट्रायल कोर्ट द्वारा अक्षय कुमार सिंह सहित अन्य चार आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई थी। हाईकोर्ट और उसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने भी चारों की फांसी की सजा बरकरार रखी थी। अब दोषी अक्षय कुमार ने पुनर्विचार याचिका दायर की है।

तिहाड़ जेल में हैं चारों आरोपी

चारों आरोपियों की फांसी की सजा पर राष्ट्रपति द्वारा अब तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। इसी बीच मंगलवार को अन्य जेल में बंद दोषी विनय शर्मा को दिल्ली के तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। इसके बाद अब निर्भया केस के चारों दोषी जिन्हें कोर्ट से फांसी की सजा हुई है, सभी तिहाड़ जेल पहुंच गए हैं।

2012 में हुआ था निर्भया हत्याकांड

दिल्ली में दिसंबर 2012 को 6 बदमाशों ने मिलकर चलती बस में निर्भया के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। इसके बाद उसकी नृशंस तरीके से हत्या कर दी गई थी। इस केस में 1 नाबालिग आरोपी भी था, जिसे कोर्ट ने राहत दे दी थी। इसके अलावा एक आरोपी ने जेल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। कोर्ट ने बाकी बचे 4 आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई थी।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020