नई दिल्ली। तबलिगी जमात के निजामुद्दीन मरकज से जब देशभऱ में कोरोना संक्रमण के फैलने का पता चला था उस वक्त देश के तमाम हिस्सों में काफी होहल्ला मचा था। जमात में शिरकत करने वालों को देशभर में कोविड-19 को फैलाने के लिए जिम्मेदार माना गया था। मरकज में बड़ी संख्या में विदेशी जमातियों ने भी हिस्सा लिया था। अब इन विदेशी जमातियों को महज 10 हजार रूपए का जुर्माना लगाकर छोड़ा जा रहा है।

इन विदेशी जमातियों में 121 मलेशिया के और 11 सऊदी अरब के रहवासी है। इन सभी ने निजामुद्दीन के मरकज में हिस्सा लिया था। इन सभी को लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने और वीसा नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में 7 हजार से लेकर 10 हजार रुपए तक का जुर्माना लगाया गया है। दिल्ली पुलिस ने 956 विदेशी जमातियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी।

इन जमातियों के लिए पहली उड़ान मंगलवार को शुरू हो सकती है। सऊदी अरब के जमाती मजिस्ट्रेट के द्वारा सुरक्षात्मक पास पर विदेश क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय (FRRO) को उचित निर्देश जारी करने के बाद वतन वापसी कर सकेंगे।

गुरुवार और शुक्रवार को, विदेशी नागरिकों द्वारा दलील देने के लिए अपने आवेदन दिए जाने के बाद कोर्ट ने इस संबंध में आदेश दिए। जज ने मामले कि सुनवाई करते हुए विदेशी जमातियों को 7 हजार से लेकर 10 हजार रुपए तक के जुर्माने की सजा सुनाई। सभी को कोर्ट के उदय होने तक कारावास की सजा भी सुनाई। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में सभी 956 विदेशी जमातियों के संबंध में कोर्ट में लिखकर दिया था कि इन सभी पर किसी प्रकार के कोई गंभीर आरोप नहीं है। विदेशी जमातियों ने कोर्ट में जमानत की याचिका लगाई थी जिसका दिल्ली पुलिस ने विरोध नहीं किया था। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में 48 चार्जशीट और 11 सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की थी।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan