जम्मू। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस को कामयाब बनाने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने मंगलवार को श्रीनगर में समीक्षा कक्ष में रणनीति बनाई।

इस समय कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस समारोह का सुरक्षित तरीके से आयोजन किया जाना केंद्र सरकार व राज्यपाल प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है। इसके साथ ही जमीनी स्तर पर सुरक्षा सुनिश्चित करने को लेकर प्रयासरत हैं।

जरूरी दिशा निर्देश दिए

इसी के मद्देनजर डोभाल ने मंगलवार को रणनीति बनाई। इस दौरान सुरक्षा की समीक्षा कर जरूरी दिशा निर्देश दिए।

चूंकि खुफिया एजेंसियों से इनपुट मिले हैं कि पाकिस्तान स्वतंत्रता दिवस से पहले राज्य या सीमा पर कोई बड़ी वारदात कर सकता है। इसलिए अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है।

जम्मू-कश्मीर में किसी भी प्रकार के हालात का सामना करने के लिए सेना व वायुसेना को भी अलर्ट किया गया है।