अयोध्या। बाबरी मस्जिद मामले के सबसे पुराने वादी रहे मोहम्मद फारुख का अयोध्या में 100 साल की उम्र में निधन हो गया। अयोध्या के रहने वाले फारुख 1949 के बाबरी मस्जिद मामले में मुस्लिम पक्ष के सात मुख्य वादियों में शामिल थे।

उत्तर प्रदेश सरकार के अतिरिक्त महाधिवक्ता और बाबरी मस्जिद कार्य समिति के संयोजक जफरयाब जिलानी ने कहा कि बुधवार को फारुख के निधन के बाद उनके सबसे बड़े बेटे मोहम्मद सलीम मामले में अपने पिता की जगह वादी बन सकते हैं।

फारुख के पिता मोहम्मद जहूर मामले में मूल शिकायतकर्ताओं में से एक थे। अन्य छह वादियों में अशाद राशिदी, हाशिम अंसारी, मौलाना महफूजुरुर रहमान, मुफ्ती हसबुल्ला, महमूद और सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड हैं।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020