सरकार ने शुक्रवार को पैन-आधार लिंकिंग की समय सीमा 30 सितंबर, 2021 से बढ़ाकर 31 मार्च, 2022 करने का फैसला किया। आयकर विभाग ने कहा कि आयकर विभाग को आधार संख्या की सूचना देने की अंतिम तिथि करदाताओं को होने वाली कठिनाइयों के कारण इसे पैन कार्ड से जोड़ने के लिए 6 महीने के लिए बढ़ा दिया गया है।इसके अलावा, कर अधिकारियों ने आयकर अधिनियम के तहत दंड कार्यवाही को पूरा करने की समय सीमा को बढ़ाकर 31 मार्च, 2022 करने का भी निर्णय लिया। पहले आयकर अधिनियम के तहत दंड की कार्यवाही को पूरा करने की समय सीमा 30,201 सितंबर निर्धारित की गई थी। यदि किसी व्यक्ति के पास पहले से ही उसका स्थायी खाता संख्या (पैन) कार्ड है और उसने आधार कार्ड प्राप्त कर लिया है तो वह आयकर विभाग को आधार संख्या की सूचना देने के लिए उत्तरदायी है। अगर पैन-आधार लिंकिंग पूरी नहीं हुई तो पैन निष्क्रिय हो जाएगा।

बैंक खाता खोलने, बैंकिंग लेनदेन, म्यूचुअल फंड लेनदेन, शेयर बाजार में निवेश आदि के लिए पैन कार्ड की आवश्यकता होती है। यदि एक पैन को निर्धारित समय सीमा के भीतर आधार से लिंक नहीं किया जाता है तो व्यक्ति को लेनदेन करने के लिए 10,000 रुपये का जुर्माना देना पड़ता है। रुपये, 50,000। वहीं, अगर पैन-आधार बैंक खाते से लिंक नहीं है, तो बैंक को दो बार टीडीएस काटने का अधिकार है।

अपने आधार कार्ड को अपने पैन कार्ड से कैसे लिंक करें:

स्‍टेप 1: आयकर विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://www.incometax.gov.in/iec/foportal पर जाएं।

स्‍टेप 2: होम पेज पर आपको 'हमारी सेवाएं' का विकल्प मिलेगा - लिंक आधार पर क्लिक करें

स्‍टेप 3: एक बार जब आप आधार लिंक पर क्लिक करते हैं तो आपको अपना पैन कार्ड नंबर, आधार कार्ड नंबर और अपना नाम दर्ज करना होगा - और टिक करें

स्‍टेप 4: अब 'मैं अपने आधार विवरण को मान्य करने के लिए सहमत हूं' पर टिक करें और 'लिंक आधार' विकल्प पर क्लिक करें।

आयकर विभाग नाम, जन्म तिथि आदि जैसी सूचनाओं का सत्यापन करेगा जिसके बाद लिंक करने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

Posted By: Navodit Saktawat