नई दिल्‍ली। लोकसभा में गुरुवार को शून्‍यकाल के दौरान डीएमके सांसद कनिमोझी ने भारतीय रेलवे के निजीकरण का मुद्दा संसद में उठाया। कनिमोझी ने कहा कि सरकार द्वारा भारतीय रेलवे और सलेम स्टील प्लांट का निजीकरण करने का अगर कोई भी प्रयास किया गया तो डीएमके और हमारे लीडर एमके स्टालिन तमिलनाडु की जनता के साथ इस बात का जमकर विरोध करेंगे।

राहुल ने उठाया किसानों का मुद्दा

इसके पूर्व राहुल गांधी ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। राहुल ने कहा कि मोदी ने किसानों से सिर्फ वादे किए लेकिन अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया। उन्होंने वायनाड में बुधवार को एक किसान के खुदकुशी करने की बात भी कही।

राहुल ने कहा, ‘मेरे संसदीय क्षेत्र वायनाड में किसान आत्महत्या कर रहे हैं। यहां 8 हजार किसानों को बैंक लोन न चुकाने पर नोटिस भेजा गया है। केरल में 18 किसानों ने आत्महत्या की क्योंकि वह बैंकों का लोन नहीं चुका पाए।’ उन्होंने सरकार पर दोहरा रवैया अपनाने पर सवाल भी खड़ा किया।

रक्षामंत्री ने राहुल के सवालों का दिया जवाब

लोकसभा में राहुल गांधी के बयान पर राजनाथ सिंह ने भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि किसानों की दयनीय हालत पिछले 4-5 साल में नहीं हुई है। जिन लोगों ने लंबे वक्त तक देश में सरकार चलाई है वो इसके लिए जिम्मेदार हैं।

राज्‍यसभा से कांग्रेस का वॉकआउट

शून्य काल के दौरान कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कर्नाटक और गोवा के राजनीतिक संकट का मुद्दा भी उठाया। इस दौरान भाजपा पर सरकार गिराने की कोशिश करने का आरोप भी लगाया गया। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर द्वारा इस दौरान कांग्रेस को अपनी हालत देखने की बात कही गई। इससे नाराज होकर कांग्रेस ने सदन से वॉकआउट कर दिया।