Ram Temple Trust: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर बड़ा ऐलान किया। पीएम मोदी ने लोकसभा में कहा कि बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में Ram Temple Trust के गठन का निर्णय लिया गया है। मेरी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार एक बड़ी योजना तैयार की है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार Ram Temple Trust का गठन किया गया है जिसका नाम श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र रखा गया है। यह ट्रस्ट अयोध्या में भव्य और दिव्य राम मंदिर निर्माण से जुड़े फैसले लेने के लिए स्वतंत्र होगा। पीएम मोदी के इस ऐलान के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बताया कि ट्रस्ट में कुल 15 सदस्य होंगे, जिनमें एक दलित होगा। (नीचे देखिए पीएम मोदी के भाषण का वीडियो)

साथ ही पीएम ने बताया कि अयोध्या में 5 एकड़ जमीन मस्जिद निर्माण के लिए देने के लिए भी राज्य सरकार ने सहमति दे दी है। पीएम ने जैसे ही यह ऐलान किया संसद भवन जयश्री राम के नारों से गूंज उठा। ट्रस्ट में कुल 15 सदस्य होंगे, जिनमें 1 दलित होगा। नीचे देखें पीएम मोदी के भाषण का वीडियो -

पीएम ने बताया कि 9 नवंबर को जिस दिन सुप्रीम कोर्ट ने यह ऐतिहासिक फैसला सुनाया, तब मैं करतापुर में था। 9 नवंबर, 2019 में मैं करतारपुर के लोकार्पण के लिए करतारपुर में था, गुरुनानक देवजी का 550वां प्रकाश पर्व था और बहुत ही पवित्र वातावरण था। मैंने लौटकर पूरा फैसला जाना और देखा कि किस तरह पूरे देश ने इस फैसले के स्वागत किया है।

पढ़िए पीएम मोदी का पूरा बयान

'करोड़ों देशवासियों की तरह ही मेरे हृदय के करीब है इस विषय पर बात करना मैं अपना सौभाग्य समझता हूं। ये विषय श्रीराम जन्म भूमि से जुड़ा हुआ है। ये विषय है अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर से जुड़ा हुआ है। अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण, वर्तमान और भविष्य में रामलला के दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या और उनकी भावनाओं को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा एक और महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।'

'9 नवंबर को राम जन्मभूमि पर फैसला आने के बाद सभी देशवासियों ने अपनी लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं पर विश्वास जताते हुए बहुत परिपक्वता का उदाहरण दिया था। मैं आज सदन में देशवासियों के परिपक्व व्यवहार की प्रशंसा करता हूं।'

'हमारी संस्कृति, परंपराएं, हमें वसुधैव कुटुंबकम और सर्वे भवन्तु सुखिनः का दर्शन देती हैं और इसी भावना के साथ आगे बढ़ने की प्रेरणा भी देती हैं। मेरी सरकार ने अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण के लिए और इससे संबंधित अन्य विषयों के लिए एक वृहद योजना तैयार की है।

यह भी पढ़ें: Maruti, Tata, Hundai, Skoda और MG ने पेश की एक से बढ़कर एक कारें, जानें हर अपडेट

'सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के अनुसार एक स्वायत्त ट्रस्ट 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' का गठन करने का प्रस्ताव पारित किया गया है। ये ट्रस्ट अयोध्या में भगवान श्रीराम की जन्मस्थली पर भव्य और दिव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण और उससे जुड़े विषयों पर निर्णय लेने के लिए पूर्ण रूप से स्वतंत्र होगा।'

'हिंदुस्तान में हर पंथ के लोग एक बृहद परिवार के सदस्य हैं। इस परिवार के हर सदस्य का विकास हो, वो सुखी, स्वस्थ रहे, समृद्ध रहे, देश का विकास हो, इसी भावना के साथ मेरी सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के सिद्धांत पर चल रही है।'

यह भी पढ़ें: Auto Expo 2020: Kia Carnival हुई लॉन्च, जानें क्या होगी कीमत और फीचर्स

'आइए, इस ऐतिहासिक क्षण में हम सभी सदस्य मिलकर अयोध्या में श्रीराम धाम के जीर्णोद्धार के लिए, भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए, एक स्वर में अपना समर्थन दें।'

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020