नई दिल्ली। आज भाजपा का 40वां स्थापना दिवस है लेकिन Coronavirus के कारण देशभर में Lockdown है और ऐसे में भाजपा ने अपने इस स्थापना दिवस को घर में ही मनाने की अपील की है। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं के नाम वीडियो संदेश जारी किया है और इसमें भाजपा कार्यकर्ताओं को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में योगदान के लिए कहा है। प्रधानमंत्री ने इस दौरान यह भी बताया कि कोरोना के खिलाफ जंग में WHO ने भारत के प्रयासों का सराहा है साथ ही हमने वक्त रहते सही कदम उठाए। उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ताओं को सुझाव भी दिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जब से यह संकट शुरू हुआ है तब से भाजपा कार्यकर्ता गरीबों तक जरूरत की चीजें पहुंचाने में लगे हैं। अब आगे इसे अभियान में बदलना है। हमारे आसपास के लोगों की मदद करें। इस दौरान खुद को और दूसरों को सुरक्षित रखें। मास्क पहने।

दूसरा यह कि कार्यकर्ता अपने-अपने बूथ पर लोगों की सेवा में लगे चिकित्साकर्मियों, पुलिसकर्मियों, सफाईकर्मियों जैसे सैनानियों को धन्यवाद पत्र दें।

प्रधानमंत्री ने इस दौरान लोगों से अपील की कि वो Arogya Setu App डाउनलोड करें और भाजपा कार्यकर्ताओं से अपील की कि लोगों को इसमें मदद करें।

प्रधानमंत्री ने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वो खुद और अन्य लोगों को भी पीएम केअर्स फंड में आर्थिक मदद के लिए प्रेरित करे।

इससे पहले पीएम मोदी ने कहा कि, हमारी पार्टी का स्थापना दिवस, एक ऐसे कालखंड में आया है, जब देश ही नहीं, पूरी दुनिया, एक मुश्किल वक्त से गुजर रही है। चुनौतियों से भरा ये वातावरण देश की सेवा के लिए, हमारे संस्कार, हमारे समर्पण, हमारी प्रतिबद्धता को और प्रशस्त करता है। श्रद्धेय श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पं. दीन दयाल उपाध्याय जी, अटल बिहारी वाजपेजी जी जैसे अनगिनत महानुभावों ने राष्ट्र प्रथम का आदर्श दिया है।

आज भी हमारे बीच अनेक वरिष्ठ महानुभाव हैं, जिन्होंने इसी मंत्र को लेकर दशकों तक जिया है और हमें शिक्षा दी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि, कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए भारत के अबतक के प्रयासों ने दुनिया के सामने एक अलग ही उदाहरण प्रस्तुत किया है। भारत दुनिया के उन देशों में है जिसने कोरोना वायरस की गंभीरता को समझा और और समय रहते इसके खिलाफ एक व्यापक जंग की शुरुआत की। भारत ने एक के बाद एक अनेक निर्णय किए, उन फैसलों को जमीन पर उतारने के भरसक प्रयास किया। सभी सरकारों को साथ लेकर आगे बढ़ने में काई कमी न रहे इसकी चिंता की।

मोदी बोले, हर स्तर पर एक बाद एक प्रोएक्टिव होकर भारत ने कई फैसले लिए। राज्य सरकारों के सहयोग से इन फैसलों को गति भी मिली।

भारत ने जिस तेजी और समग्रता से काम किया है। उसकी प्रसंशा सिर्फ भारत ने ही नहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है। तमाम देश एकजुट होकर कोरोना का मुकाबला करें, इसके लिए सार्क देशों की विशेष बैठक हो या G-20 देशों का विशेष सम्मेलन, भारत ने इन सारे आयोजनों में अहम भूमिका निभाई है।

हमारे शास्त्रों में कई महत्वपूर्ण बातें कही गईं हैं। हमारे वहां कहा गया है।

समानो मंत्र: समिति: समानी।

समानम् मनः सह चित्तम् एषाम्।

यानि हमारे विचार, हमारे संकल्प और हमारे हृदय एकजुट होने चाहिए

मोदी बोले, भारत जैसा इतना बड़ा देश, 130 करोड़ लोगों का ये देश, लॉकडाउन के समय भारत की जनता ने जिस तरह की maturity दिखाई है, गांभीर्य दिखाया है, वो अभूतपूर्व है। कोई कल्पना नहीं कर सकता था कि इतने विशाल देश में, लोग इस तरह अनुशासन और सेवा भाव का पालन करेंगे।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना