नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग और अफ्रीका एवेन्यू में रक्षा कार्यालय परिसरों का उद्घाटन किया। इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और सेनाध्यक्ष जनरल एम.एम नरवणे भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को भी संबोधित किया। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट से संबंधित वेबसाइट भी लांच की। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि आजादी के 75वें वर्ष में आज हम देश की राजधानी को नए भारत की आवश्यकताओं और आकांक्षाओं के अनुसार विकसित करने की तरफ एक महत्वपूर्ण कदम बढ़ा रहे हैं। ये नया डिफेंस ऑफिस कॉम्प्लेक्स हमारी सेनाओं के कामकाज को अधिक सुविधाजनक, अधिक प्रभावी बनाने के प्रयासों को और सशक्त करने वाला है। पीएम मोदी ने कहा कि आज जब भारत की सैन्य ताकत को हम हर लिहाज से आधुनिक बनाने में जुटे हैं, आधुनिक हथियार से लेस करने में जुटे हैं, सेना की जरूरत की खरीद तेज हो रही है, तब देश की रक्षा से जुड़ा कामकाज दशकों पुराने तरीके से हो, ये कैसे संभव हो सकता है?

उद्घाटन से पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ने की पूजा

दो रक्षा कार्यालयों के उद्घाटन से पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल विपिन रावत ने पूजा की। इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, आवास और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, आवास और शहरी कार्य राज्य मंत्री कौशल किशोर भी उपस्थित थे।

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का हिस्सा है दोनों कार्यालय

आज प्रधानमंत्री मोदी ने जिन दोनों रक्षा कार्यालयों का उद्घाटन किया है, वे दोनों सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का ही हिस्सा है, जिसके तहत लुटियन दिल्ली में आने वाले 86 एकड़ हिस्से को विकसित किया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट पर कुल 20 हजार करोड़ के लगभग लागत आ रही है। अफ्रीका एवेन्यू ऑफिस 7 मंजिला होगा, जिसमें सिर्फ रक्षा मंत्रालय से जुड़े ऑफिस होंगे, वहीं कस्तूरबा गांधी मार्ग वाला ऑफिस 7 मंजिला होगा परिवहन भवन, श्रम शक्ति भवन के ऑफिस भी होंगे।

Posted By: Sandeep Chourey