देश में कोरोना की दूसरी लहर और इस पर काबू पाने के प्रयासों के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को देशभर के डॉक्टरों से ऑनलाइन बातचीत की। इस दौरान डॉक्टरों ने कोरोना वायरस के जुड़े अपने अनुभव, इसके निपटने को लेकर मिली सीख और इससे निपटने के सुझावों के बारे में प्रधानमंत्री को विस्तार से बताया। पीएम मोदी ने कोविड केयर में लगे देशभर के कई डॉक्टरों के ग्रुप से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की।

मालूम हो कि देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी चिंता का विषय बना हुआ है। इसी के मद्देनजर पीएम मोदी लगातार कोरोना संकट के बीच मेडिकल आवश्यकताओं को देखते हुए एक्सपर्ट से बात कर रहे हैं। संक्रमण को रोकने के लिए कई हिस्सों में लॉकडाउन जैसे सख्त कदम उठाए गए हैं। ताकि अस्पतालों में बेड की कमी के साथ ही दवाईयों और ऑक्सीजन की किल्लत को दूर किया सकें। इसका फायदा ये हुआ है कि देश में अब कोरोना के मामलों में कमी दर्ज हो रही है। लेकिन अभी भी स्थिति को काबू में नहीं कहा जा सकता है।

उधर, केन्द्र और राज्य सरकारें शहरी और ग्रामीण इलाकों में लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने की कोशिश में लगे हैं। वहीं वैक्सीनेशन अभियान में भी तेजी लाए जाने का प्रयास किया जा रहा है। बता दें कि सोमवार को देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 2 लाख 81 हजार 386 नए मामले सामने आए हैं। वैसे 27 दिनों बाद देश में मरीजों की संख्या तीन लाख से कम हुई है।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags