वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 फरवरी को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक दिवसीय दौरे के दौरान रिक्शा चालक मंगल केवट से मुलाकात की। उसने अपनी बेटी की शादी का न्योता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजा था। पीएम ने मंगल केवट से उसके और उसके परिवार का कुशल-क्षेम पूछा और साथ ही स्वच्छ भारत अभियान में केवट के प्रयासों की सराहना भी की। बताते चलें कि पीएम मोदी से प्रभावित होकर मंगल केवट ने अपने गांव में गंगा के किनारों को खुद साफ करने का काम किया है।

बताते चलें कि रिक्शा चालक मंगल केवट को उनकी बेटी की शादी की बधाई देते हुए एक पत्र भेजा था। मंगल केवट की बेटी की शादी से पहले प्रधानमंत्री की तरफ से एक पत्र भेजा गया, जिसमें उन्होंने मंगल केवट और उनके परिवार को अपना आशीर्वाद दिया था। पीएम मोदी द्वारा गोद लिए गए डोमरी गांव के रहने वाले केवट ने प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) को एक निमंत्रण कार्ड भेजा था और उनसे आग्रह किया था कि वह 12 फरवरी को अपनी बेटी की शादी के लिए आएं।

हालांकि, रिक्शा चालक की बेटी की शादी में तो प्रधानमंत्री मोदी नहीं आए, लेकिन उनकी तरफ से भेजे गए पत्र को पाने के बाद परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं है। केवट ने बताया कि हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पहला निमंत्रण भेजा था। मैंने इसे व्यक्तिगत रूप से दिल्ली जाकर पीएमओ में दिया था। इसके बाद 8 फरवरी को हमें पीएम मोदी का अभिनंदन पत्र मिला, जिसने हमें उत्साहित किया है। मंगल केवट और उनकी पत्नी रेणु देवी ने कहा कि वे मोदी के वाराणसी के दौरे के समय उनसे मिलना चाहती थीं।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai